छत्तीसगढ़ में लाल आतंक का कहरः पंखाजूर में 3 का अपहरण, दो की हत्या

कुछ दिनों पहले ही दो ग्रामीणों की हत्या के बाद अब पंखाजूर के ताड़वेली गांव से तीन युवकों का नक्सलियों ने अपहरण कर लिया है.

छत्तीसगढ़ में लाल आतंक का कहरः पंखाजूर में 3 का अपहरण, दो की हत्या
फाइल फोटो

नई दिल्लीः छत्तीसगढ़ में नक्सली हर रोज नई वारदातों को अंजाम देकर ग्रामीण इलाकों में दहशत फैलान की कोशिश कर रहे हैं. कुछ दिनों पहले ही दो ग्रामीणों की हत्या के बाद अब पंखाजूर के ताड़वेली गांव से तीन युवकों का नक्सलियों ने अपहरण कर लिया है. नक्सलियों द्वारा अपहरण के बाद किसी तरह से एक ग्रामीण अपनी जान बचाकर नक्सलियों के चंगुल से बच निकला, लेकिन दो लोग अभी भी नक्सलियों के कब्जे में हैं. वहीं जान बचाकर थाने पहुंचे ग्रामीण ने नक्सलियों द्वारा अपहरण की सूचना पुलिस को दी और पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए ग्रामीण की खोजबीन शुरू कर दी है. वहीं ग्रामीणों की हत्या की खबर मिलने के बाद भी पुलिस अभी तक घटना स्थल तक नहीं पहुंच पाई है. दरअसल, इलाके में बारिश के चलते सभी नदियां और नाले उफान पर हैं. ऐसे में गांव तक पहुंचना मुश्किल हो रहा है. इसीलिए पुलिस गांव तक नहीं पहुंच पाई है.

छत्तीसगढ़ः आत्मसमर्पित नक्सली की धारदार हथियार से हत्या

25 से भी अधिक नक्सलियों पर मामला दर्ज 
मिली जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने तीनों ग्रामीणों का पुलिस का मुखबिर होने की सूचना पर अपहरण किया था. जिसके बाद तीन में से एक ग्रामीण किसी तरह से नक्सलियों से बचकर भाग निकला और पुलिस के पास पहुंचा. जिसके बाद पुलिस ने ग्रामीण की सूचना पर 25 से भी अधिक नक्सलियों पर मामला दर्ज कर लिया है. बता दें इससे पहले बीते 24 अगस्त को भी नक्सली 2 ग्रामीणों को पकड़ कर ले गए थे. जिसके बाद 27 अगस्त को दोनों ही ग्रामीणों की हत्या कर दी

छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने पांच ट्रकों में लगाई आग, ग्रामीणों में दहशत

पूर्व नक्सली की हत्या
वहीं नक्सलियों द्वारा बुधवार को एक पूर्व नक्सली की हत्या का भी मामला सामने आया है. मिली जानकारी के मुताबिक नक्सली, पूर्व नक्सली के आत्मसमर्पण से खुश नहीं थे. नक्सलियों ने युवक को आत्मसमर्पण करने से मना भी किया था, लेकिन उसने नक्सलियों की बात नहीं मानी और आत्मसमर्पण कर दिया. जिसके बाद 4 दिनों से घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने पूर्व नक्सली की हत्या कर दी.