राजस्व मंत्री के इलाके में श्मशान घाट तक नहीं, तिरपाल लगा किया बुजुर्ग का अंतिम संस्कार

रविवार 64 वर्षीय बेनिबाई पति तुलई अहिरवार का निधन हो गया. जब बेनिबाई के शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया तो तेज बारिश शुरू हो गई जिससे अंतिम संस्कार करने के लिए तिरपाल लगाना पड़ा.

राजस्व मंत्री के इलाके में श्मशान घाट तक नहीं, तिरपाल लगा किया बुजुर्ग का अंतिम संस्कार
तिरपाल में अंतिम संस्कार करते ग्रामीण

सुरखी: मध्यप्रदेश सरकार में राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत की सुरखी विधानसभा अंतर्गत विकास के दावों की हकीकत बयां करती तस्वीरें सामने आई है. यह तस्वीरें उसी जैसीनगर क्षेत्र से सामने आई हैं जहां 2 दिन पहले मुख्यमंत्री ने 631 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का शिलान्यास और भूमि पूजन किया था. इसी जैसीनगर में तेज बारिश के कारण ग्रामवासी तिरपाल और छाता लगातार शवों का दाह-संस्कार करने को मजबूर हैं.

बता दें कि रविवार 64 वर्षीय बेनिबाई पति तुलई अहिरवार का निधन हो गया. जब बेनिबाई के शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया तो तेज बारिश शुरू हो गई जिससे अंतिम संस्कार करने के लिए तिरपाल लगाना पड़ा.

कोरोना काल में पैसे की मार झेल रहे Balika Vadhu के डायरेक्टर को बेचनी पड़ रही सब्जियां

न लकड़ी है और न श्मशानघाट 
मंत्री के इलाके में शमशान घाट न होने के कारण अंतिम संस्कार खुले में ही किया जाता है. ग्रामीणों ने बताया भदभदा पर श्मशान घाट न होने की जानकारी जन प्रतिनिधि एवं प्रशासन को पहले दी जा चुकी हैं, लेकिन अभी तक उनकी तरफ से सिर्फ आश्वासन ही मिले हैं. अंतिम संस्कार के लिए न पंचायत लकड़ी की व्यवस्था करता है और न ही वन विभाग. इनकी व्यवस्था ग्रामीण करते हैं. इस पूरे मामले में प्रशासन के अधिकारी तथा जनप्रतिनिधि मीडिया से बात करने के लिए तैयार नहीं है.

WATCH LIVE TV