MP चुनाव : कांग्रेस के किले में पिता की हार का बदला लेने उतरीं फातिमा रसूल सिद्दीकी

बीजेपी की एकमात्र महिला मुस्लिम प्रत्याशी फातिमा रसूल सिद्दीकी भोपाल उत्तर सीट से चुनाव मैदान में उतरी हैं.

MP चुनाव : कांग्रेस के किले में पिता की हार का बदला लेने उतरीं फातिमा रसूल सिद्दीकी
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश की भोपाल उत्तर विधानसभा सीट कांग्रेस का गढ़ है. भोपाल उत्तर मुस्लिम बाहुल्य इलाका है. मुस्लिम बाहुल्य इलाका होने की वजह से इस सीट पर हर दल मुस्लिम प्रत्याशी को ही चुनाव में उतारता है. यह सीट किसी जमाने में कम्युनिस्टों का गढ़ हुआ करती थी. 1957, 1962, 1967 और 1972 में यह भोपाल सीट हुआ करती थी. बीजेपी की एकमात्र महिला मुस्लिम प्रत्याशी फातिमा रसूल सिद्दीकी भोपाल उत्तर सीट से चुनाव मैदान में उतरी हैं. फातिमा अपने पिता की हार का बदला लेने के लिए कांग्रेस के आरिफ अकील के खिलाफ उतरी हैं.

1993 में खुला था BJP का खाता 
भोपाल उत्तर सीट 1977 में अस्तित्व में आई. 1977 में पहली बार इस सीट पर चुनाव हुआ और जनता पार्टी के हामिद कुर जीते. इस सीट पर 4 बार सीपीआई के शाकिर अली ने जीत हासिल की. इसके बाद 1980 में कांग्रेस के रसूल अहमद चुनाव जीते. वह 1985 का चुनाव भी जीते. 1990 में हुए चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा. 1990 में निर्दलीय उम्मीदवार आरिफ अकील को जीत मिली. इस सीट पर बीजेपी का खाता साल 1993 में खुला.

शिवराज का राहुल पर तंज, ये तो ठहरे परदेसी, साथ क्या निभाएंगे...काम तो मामा ही आएंगे

कांग्रेस के आरिफ अकील हैं विधायक 
1998 से लेकर 2013 तक आरिफ अकील विधायक रहे. आरिफ अकील बीजेपी और मोदी लहर में भी  चुनाव जीते. आरिफ अकील दिग्विजय सिंह सरकार में गैस राहत मंत्री भी रहे चुके हैं. 2013 के चुनाव में कांग्रेस के आरिफ अकील ने बीजेपी के आरिफ बैग को 6 हजार से ज्यादा वोटों से हराया. आरिफ अकील को जहां 73070 वोट मिले थे तो वहीं आरिफ बैग को 66406 वोट मिले थे. 2008 के चुनाव में भी कांग्रेस के आरिफ अकील को जीत मिली थी. उन्होंने बीजेपी के आलोक शर्मा को हराया था. आरिफ अकील को 58267 वोट मिले थे, तो वहीं आलोक शर्मा को 54241 वोट मिले थे.

MP : कांग्रेस के मजबूत नेता है अजय सिंह, 20 साल से जीत रहे हैं चुनाव

BJP की एकमात्र मुस्लिम प्रत्याशी
फातिमा कांग्रेस के पूर्व विधायक रसूल अहमद सिद्दीकी की बेटी हैं. रसूल अहमद सिद्दीकी 90 के दशक में भोपाल उत्तर सीट से 2 बार कांग्रेस विधायक रह चुके हैं. 1992 के विधानसभा चुनाव में जनता दल के उम्मीदवार के तौर पर आरिफ अकील ने कांग्रेस के रसूल अहमद सिद्दीकी को मात देकर इस सीट पर कब्जा जमाया था. बता दें कि आरिफ अकील से पिता की हार का बदला लेने के लिए फातिमा ने कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा देकर बीजेपी की सदस्यता ली.