सरकारी स्कूलों में पढ़ाई के साथ बच्चे सुनेंगे कहानी

बचपन में आपने अपनी दादी-नानी से कई कहानियां सुनी होंगी लेकिन आजकल के बच्चे दादी-नानी से तो दूर हो ही गए कहानियों से भी दूर हो गए, ऐसे में सरकार एक पहल करने जा रही है जानिए क्या है वो पहल।

सरकारी स्कूलों में पढ़ाई के साथ बच्चे सुनेंगे कहानी
प्रतीकात्मक तस्वीर

भोपाल: मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूली के बच्चों को अब पढ़ाई के साथ-साथ कहानी सुनाई जाएगी।

दरअसल, स्कूल शिक्षा विभाग ने क्लास वन और टू के बच्चों की पढ़ाई में कहानी सुनाने को शामिल करने के निर्देश दिए हैं।

विभाग की तरफ़ से सभी ज़िला शिक्षा अधिकारियों को इसके लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

इसका मक़सद ये है कि बच्चों को घर में सुनाये जाने वाले दादी-नानी के किस्से याद हो जाया करते थे।

ऐसे में पढ़ाई की चीजें भी कहानी के अंदाज़ में बताई जाएंगी।

ताकि बच्चों को पढ़ाई आसानी से समझ में आ जाए।

केन्द्र सरकार ने भी हाल ही में 'सब पढ़ें-सब बढ़ें' कार्यक्रम में स्कूल के बच्चों में भाषा के ज्ञान को मज़बूती देने के लिये अनेक सुझाव राज्य सरकारों को दिये हैं।

इसी कड़ी में स्कूली सिलेबस में कहानी सुनाने को शामिल किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

विभाग की ये अच्छी पहल है और हर तरफ़ इसकी तारीफ़ हो रही है।