इंदौरः इलाज से असंतुष्ट था मरीज, डॉक्टर की पत्नी पर चाकू से किए 13 वार और कर दी हत्या

त्वचा संबंधी रोग का मरीज रफीक मालवा मिल क्षेत्र में डॉक्टर रामकृष्ण वर्मा के क्लीनिक पहुंचा. वर्मा शहर से बाहर थे और क्लीनिक में उनकी पत्नी लता (50) मौजूद थीं. वह क्लीनिक चलाने में नर्स के रूप में अपने डॉक्टर पति की मदद करती थीं. 

इंदौरः इलाज से असंतुष्ट था मरीज, डॉक्टर की पत्नी पर चाकू से किए 13 वार और कर दी हत्या
धारदार हथियार से कर दी हत्या.

इंदौरः सनसनीखेज घटनाक्रम में गुरुवार को यहां एक मरीज ने एक निजी क्लीनिक में डॉक्टर की 50 वर्षीय पत्नी की दिनदहाड़े हत्या कर दी और उसके बेटे को घायल कर दिया. बाद में पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा. तुकोगंज पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि वारदात के आरोपी की पहचान रफीक रशीद (45) के रूप में हुई है. उन्होंने बताया कि त्वचा संबंधी रोग का मरीज रफीक मालवा मिल क्षेत्र में डॉक्टर रामकृष्ण वर्मा के क्लीनिक पहुंचा. वर्मा शहर से बाहर थे और क्लीनिक में उनकी पत्नी लता (50) मौजूद थीं. वह क्लीनिक चलाने में नर्स के रूप में अपने डॉक्टर पति की मदद करती थीं. 

अधिकारी ने बताया कि डॉक्टर के उपलब्ध नहीं होने के चलते लता ने जब रफीक को बाद में क्लीनिक आने को कहा, तो उसने विवाद शुरू कर दिया. आरोप है कि विवाद के दौरान उसने गुस्से में आकर चाकू निकाला और इस धारदार हथियार से डॉक्टर की पत्नी पर हमला कर दिया. उन्होंने बताया कि लता का बेटा अभिषेक (19) जब अपनी मां की चीखें सुनकर उन्हें बचाने आया, तो रफीक ने युवक पर भी चाकू से वार किये. पुलिस अधिकारी ने बताया कि बुरी तरह घायल मां-बेटे को एक नजदीकी अस्पताल ले जाया गया.

देखें लाइव टीवी

कश्मीर में ईद की छुट्टी पर घर आया जवान, आतंकियों ने गोली मारकर हत्या की

डॉक्टरों ने जांच के बाद लता को मृत घोषित कर दिया, जबकि इलाज के बाद अभिषेक की हालत फिलहाल खतरे से बाहर बतायी जा रही है. उन्होंने बताया कि वारदात का कारण अभी पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो सका है. इतना जरूर पता चला है कि रफीक डॉक्टर वर्मा के क्लीनिक में अपने त्वचा संबंधी रोग का इलाज करा रहा था. वह इलाज से कथित तौर पर असंतुष्ट था. पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी से पूछताछ के साथ मामले की विस्तृत जांच जारी है.

(इनपुटः भाषा)