ग्वालियरः जयारोग्य अस्पताल के मरीजों के अटेंडर को अब नहीं खींचना होगा स्ट्रेचर, मिलने वाली है बड़ी सुविधा

लियर के जयारोग्य अस्पताल में मरीजों को जल्द ही निशुल्क ई-रिक्शा की सौगात मिलने वाली है. ई-रिक्शा में मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए स्ट्रेचर लगाए जाएंगे.

ग्वालियरः जयारोग्य अस्पताल के मरीजों के अटेंडर को अब नहीं खींचना होगा स्ट्रेचर, मिलने वाली है बड़ी सुविधा
(सांकेतिक तस्वीर)

कर्ण मिश्रा, ग्वालियरः ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल में मरीजों को जल्द ही निशुल्क ई-रिक्शा की सौगात मिलने वाली है. ई-रिक्शा में मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए स्ट्रेचर लगाए जाएंगे. जिससे कि इमरजेंसी के हालात में या फिर मरीज को जांच के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए मरीज के अटेंडरों को परेशान नहीं होना पड़ेगा और अस्पताल परिसर में ईको फ्रेंडली वातावरण भी बना रहेगा.

दरअसल, अंचल के सबसे बड़े जयारोग्य अस्पताल समूह परिसर में कमला राजा, न्यूरोलॉजी, कार्डियोलॉजी ,ब्लड बैंक, माधव डिस्पेंसरी सहित कई डिपार्टमेंट अलग अलग संचालित किए जाते हैं. जिसके कारण मरीजों को भर्ती करने से लेकर उनकी जांच रिपोर्ट के लिए उन्हें एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में हाथ से धकेलने वाले स्ट्रेचरों का प्रयोग किया जाता है. ऐसे में कई बार मरीज के अटेंडरों को ही स्ट्रेचर को खींच कर एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाना पड़ता है.

देखें LIVE TV

लगातार तल्ख हो रहे हैं सिंधिया के तेवर, बोले- 'छापा पड़ने के बाद मिलावटखोरों को छोड़ा जा रहा है'

लेकिन अब प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर और ग्वालियर दक्षिण से कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक ने अपनी निधि से 10 ई रिक्शा अस्पताल प्रबंधन को देने की बात कही है. ऐसे में इन रिक्शाओं में बने स्ट्रेचर पर मरीजों को ले जाना भी आसान होगा और उनके अटेंडर भी उसमें बैठ सकेंगे. संभवतः प्रदेश में जयारोग्य पहला ऐसा अस्पताल है जो इस तरह की सेवा शुरू करने जा रहा है. अगर सब कुछ ठीक रहा तो आने वाले समय में मरीजों को ई-रिक्शा का लाभ जल्द मिल सकता है.