इंदौर-अहमदाबाद हाईवे से लोग परेशान, अक्सर होते हैं हादसे और लग जाता है जाम

अहमदाबाद नेशनल हाइवे (Ahmedabad National Highway) के गड्ढे और अधूरे निर्माण कार्य राहगीरों के लिए मुसीबत की वजह बने हुए हैं. इस वजह से अक्सर जाम लग जाता है, जबकि कई बार हादसे भी हो जाते हैं.

इंदौर-अहमदाबाद हाईवे से लोग परेशान, अक्सर होते हैं हादसे और लग जाता है जाम
(फाइल फोटो)

सचिन जोशी, इंदौरः अहमदाबाद नेशनल हाइवे (Ahmedabad National Highway) के गड्ढे और अधूरे निर्माण कार्य राहगीरों के लिए मुसीबत की वजह बने हुए हैं. इस वजह से अक्सर जाम लग जाता है, जबकि कई बार हादसे भी हो जाते हैं. इन सबके बावजूद निर्माण कंपनी लोगों से टोल वसूल रही है. दरअसल, साल 2011 में आवीआरसीएल कंपनी ने इंदौर-अहमदाबाद हाइवे (Indore-Ahmedabad Highway) का निर्माण शुरू किया था, जो साल 2013 में पूरा हो जाना था, लेकिन फंड की कमी की वजह से अब तक पूरा नहीं हो पाया है.

बताया जा रहा है कि, झाबुआ (Jhabua) में मछलिया घाट में निर्माण कार्य अधूरा होने और सड़क के जर्जर होने की वजह से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. लोगों का आरोप है कि, इंदौर-अहमदाबाद हाइवे का निर्माण कर रही कंपनी टोल तो वसूल रही है, लेकिन हालात नहीं सुधर रहे हैं. उधर पुलिस भी मानती है कि अधूरे निर्माण कार्य की वजह से हादसों की संख्या बढ़ी है. साथ ही जाम की स्थिति भी बनती है. इसे देखते हुए अब अस्थायी यातायात चौकी स्थापित की जा रही हैं. साथ ही संबंधित कंपनी से पत्राचार किया जा रहा है.

MP: बीच सड़क पर आराम फरमा रहे हैं आवारा पशु, राहगीर हो रहे परेशान और चोटिल

आपको बता दें कि इंदौर-अहमदाबाद हाइवे (Indore-Ahmedabad Highway) की कुल लंबाई 375 किलोमीटर है. इसमें से 220 किलोमीटर गुजरात (Gujarat) में है, जबकि बाकि का 155 किलोमीटर का हिस्सा मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में है. खबरों के मुताबिक, प्रदेश में मौजूद हिस्से के 139 किलोमीटर के हिस्से का टोल लिया जा रहा है, लेकिन लोग इसके बाद भी अधूरे पड़े निर्माण कार्य से परेशान है. क्योंकि सड़क पर हुए गड्ढे के चलते कई हादसे हो चुके हैं.