close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रशासन से भिड़ीं सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, बोलीं- 'दुर्गा पूजा की गाइड लाइन मंजूर नहीं'

हिन्दू संगठन के दिए गए ज्ञापन में लिखा गया है कि किसी को भी स्वीकार नहीं होगा कि किसी भी पूजा प्रक्रिया में छेड़खानी हो. शास्त्र के जो नियम हैं, उस अनुसार चलते हैं.

प्रशासन से भिड़ीं सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, बोलीं- 'दुर्गा पूजा की गाइड लाइन मंजूर नहीं'
प्रज्ञा ठाकुर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दुर्गा पूजा का त्योहार 29 सितंबर से शुरू हो रहा है. मां के नवरात्रे पूरे देश में बड़े धूमधाम से मनाए जाते हैं लेकिन मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में इन दिनों सियासत चल रही है. दुर्गा प्रतिमाओं की ऊंचाई कम करने के शासनादेश के आदेश पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) ने ऐतराज जताया. प्रज्ञा सिंह ठाकुर का कहना है कि सरकार की तरफ से जो फरमान जारी हुआ है, वो हमें स्वीकार नहीं है. 

हिन्दू संगठन के दिए गए ज्ञापन में लिखा गया है कि किसी को भी स्वीकार नहीं होगा कि किसी भी पूजा प्रक्रिया में छेड़खानी हो. शास्त्र के जो नियम हैं, उस अनुसार चलते हैं. ये कांग्रेस का नियम है कि जैसे ही हिन्दू त्योहार आते हैं तो तत्काल प्रभाव से नियम कानून लागू करने लगते हैं. मूर्ति 6 फीट से अधिक नहीं होनी चाहिए, पंडाल में रात्रि 10 बजे से सुबह 10 बजे तक ध्वनि नहीं होनी चाहिए. हम कैसे मान लें कि ये धर्म विरोधी फरमान नहीं है.

VIDEO: BJP नेताओं के निधन पर साध्वी प्रज्ञा के बेतुके बोल, कहा- 'विपक्ष कर रहा है मारक शक्ति का प्रयोग'

सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur)  ने कहा कि ये फरमान पूर्णत अस्वीकृत है. हम ने बात रखी कि हमें ये फरमान मान्य नहीं है और अगर ये थोपा गया तो आंदोलन पर उतर आएंगे. साउंड चलने चाहिए जब तक मन रहे. हम डीजे क्यों नहीं चलाएंगे. हिन्दू त्योहार अपनी मर्जी से क्यों नहीं मना सकता है? कोर्ट की गाइड लाइन है? कोई गाइड लाइन नहीं है, हिन्दू पूजा के समय गाइडलाइन लाद दी जाती है. गौरतलब है कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर पहली बार लोकसभा से चुनकर सांसद बनी हैं.