MP: शक के चलते गर्भवती महिला के साथ बर्बरता, हुआ गर्भपात

राजगढ़ में प्रेमी जोड़े को भगवाने के शक में एक गर्भवती महिला व उसके मामा को राजस्थान के दबंगो ने ले जाकर कुएं में रस्सी से बांध कर लटकाकर दिया. उसके बाद उन्हें रात भर पीटा गया. महिला से मारपीट करने से उसका गर्भपात हो गया 

 MP: शक के चलते गर्भवती महिला के साथ बर्बरता, हुआ गर्भपात
शक के चलते गर्भवती महिला के साथ बर्बरता

मनोज जैन/राजगढ़: मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले में इंसानियत को शर्मिंदा कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां शक के चलते ऐसी हरकत की गई जिससे इंसान की रूह कांप जाए. राजगढ़ में प्रेमी जोड़े को भगवाने के शक में एक गर्भवती महिला व उसके मामा को राजस्थान के दबंगो ने ले जाकर कुएं में रस्सी से बांध कर लटकाकर दिया. उसके बाद उन्हें रात भर पीटा गया. महिला से मारपीट करने से उसका गर्भपात हो गया व महिला के मामा के हाथ पर जलते हुए कोयले रखे गए. राजस्थान पुलिस को जेसे ही सूचना मिली पुलिस मौके पर पहुंचीऔर उन्हें छुड़वाया जिसके बाद इन लोगों की जान बची.

दरअसल राजस्थान के भालता थाना क्षेत्र के मुजकापुरा गांव से एक युवती भागवत कथा सुनने मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के सेमली गांव आई थी. जिसके बाद यह युवती मध्यप्रदेश के अमरपुरा गांव के लड़के के साथ भाग गई. इस प्रेमी युगल को भगवाने के शक के आधार पर लड़की पक्ष के कुछ दबंगों ने मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के बोर का पानी गांव में रहने वाली मांगू बाई पर शक जताया. जिसके बाद शक के आधार पर ही वे मांगू बाई और उसके मामा केवल सिंह को उठाकर राजस्थान ले गए.

दबंग मांगू बाई को उसके मायके ले गए और उसकी मां धापू बाई के सामने पूछताछ की. जब मांगू बाई ने उनकी लड़की के भागने संबंधी कोई जानकारी नहीं दी तो मांगू बाई सहित उसकी मां धापू बाई और मामा केवल सिंह को भालता थाने के अंतर्गत आने वाले मुजकापुरा गांव के बाहर स्थित खाली कुए में रस्सी से बांध कर लटका दिया. 

इस घटना में मांगू बाई की गर्भपात हो गया. वहीं केवल के हाथों पर दबंगो ने जलते हुए अंगारे रख कर पूछताछ की जिसकी वजह से केवल के हाथ बुरी तरह से झुलस गए. बता दें की इस पूरे मामले में भालता गांव में लड़की को भगाने के मामले में आरोपी मोहन सिंह, मनोहर सिंह, ईश्वर सिंह, कालूसिंह मांगीलाल आदि की तरफ से पीड़िता मांगू बाई के खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया गया है. जबकि केवल सिंह के साथ हुई मारपीट और कुएं में रस्सी से बांध कर लटकाने की घटना का प्रकरण भोजपुर थाने में दर्ज किया गया है. मांगू भाई ने अपनी शिकायत खिलचीपुर थाने में दर्ज कराई है और महिला को इलाज के लिए खिलचीपुर अस्पताल से राजगढ़ के जिला अस्पताल में रेफर किया गया है. 

फिलहाल लड़की का नहीं लगा सुराग
राजस्थान के भालता थाना अंतर्गत आने वाले मुजकापुरा गांव में रहने वाली युवती के भागने को लेकर तीन थानों में इस पूरे मामले की जांच चल रही है.  लेकिन अभी तक लड़की और उसके साथ भागने वाले युवक का कहीं भी पता नहीं लग पाया है. वहीं इस घटना के बाद अब विवाद और बढ़ने की स्थिति निर्मित हो रही है. घटना के बाद राजस्थान पुलिस ने केवल राजस्थान की पीड़ित महिला की शिकायत पर मामला दर्ज किया है. दो अन्य पीड़ित जो मध्य प्रदेश के हैं उनका मामला दर्ज नहीं किया गया है. उन्होंने मध्यप्रदेश में आकर राजगढ़ जिले के खिलचीपुर और जीरापुर थाने में आवेदन देकर मामला दर्ज करवाया. वैसे तो ये घटना राजस्थान की है लेकिन इस पूरे मामले में 3 प्रकरण राजस्थान में और दो मध्यप्रदेश में दर्ज किए गए हैं.