close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सबरीमाला मुद्दे पर बोले राहुल गांधी,'मेरी निजी सोच कांग्रेस की केरल इकाई से अलग'

राहुल गांधी ने कहा,'सबरीमला मामले में मेरा निजी दृष्टिकोण यह है कि महिलाएं और पुरुष बराबर हैं. (सभी) महिलाओं को सबरीमला मंदिर में जाने की अनुमति मिलनी चाहिए.'

सबरीमाला मुद्दे पर बोले राहुल गांधी,'मेरी निजी सोच कांग्रेस की केरल इकाई से अलग'
राहुल ने कहा, '..तो मेरा निजी मत और केरल में मेरी पार्टी के विचार इस मामले में अलग-अलग हैं. मेरी पार्टी केरल में वहां के मूल निवासियों की भावनाओं की नुमाइंदगी करती है.' (@INCIndia)

इंदौर: सुप्रीम कोर्ट के सबरीमाला मंदिर संबंधी फैसले के मुताबिक केरल के इस देवस्थान में सभी आयु वर्ग की महिलाओं को प्रवेश दिए जाने के मत का कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने निजी तौर पर मंगलवार को समर्थन किया. इसके साथ ही कहा कि इस 'बेहद भावनात्मक' मामले में उनकी निजी सोच उनकी पार्टी की केरल इकाई से अलग है.

राहुल गांधी ने कहा,'सबरीमला मामले में मेरा निजी दृष्टिकोण यह है कि महिलाएं और पुरुष बराबर हैं. (सभी) महिलाओं को सबरीमला मंदिर में जाने की अनुमति मिलनी चाहिए. हालांकि, केरल में मेरी पार्टी का दृष्टिकोण है कि सबरीमला मंदिर मामला वहां महिलाओं और पुरुषों, दोनों के लिए एक बेहद भावनात्मक मुद्दा है.'

राहुल ने कहा, '..तो मेरा निजी मत और केरल में मेरी पार्टी के विचार इस मामले में अलग-अलग हैं. मेरी पार्टी केरल में वहां के मूल निवासियों की भावनाओं की नुमाइंदगी करती है.'

राहुल ने साधा पीएम पर निशाना
राफेल घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखे हमले जारी रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने मोदी को 'भ्रष्ट व्यक्ति' कहा और दावा किया कि जिस दिन राफेल घोटाले की जांच शुरू होगी, उन्हें जेल जाना होगा. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने राफेल डील मामले में उद्योगपति अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिये तय प्रक्रिया का उल्लंघन किया.

राहुल ने दावा किया, 'जब जांच के दौरान राफेल घोटाले के दस्तावेज सामने आयेंगे, तो इनमें बड़े-बड़े अक्षरों में एक तरफ मोदी और दूसरी तरफ अंबानी का नाम लिखा होगा.' उन्होंने कहा कि भारत के लिये रुकावटें पैदा करना पाकिस्तान के डीएनए में है. लेकिन भाजपा की कथित तौर पर गलत सियासी नीतियों के कारण पड़ोसी मुल्क को भारत विरोधी आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने का मौका मिल रहा है जिससे सीमाओं की सुरक्षा में तैनात भारतीय जवानों को शहीद होना पड़ रहा है.

'हमने गलतियां की थीं'
राहुल ने एक सवाल के जवाब पर कहा,'मैं आप 200 पत्रकारों के सामने स्वीकार करता हूं कि वर्ष 2014 के पिछले लोकसभा चुनाव में हमारी सरकार जनता की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर सकी थी. हमने गलतियां की थीं. लेकिन इसके बाद सत्ता में आने वाली मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार, रोजगार और किसानों के मुद्दों पर हमसे भी खराब काम किया है.' 

(इनपुट - भाषा)