छत्तीसगढ़ के इस जिले में शुरू किया गया पुलिस वालों के लिए कोविड केयर सेंटर, इलाज की भी दी गई ट्रेंनिंग

पुलिस कर्मियों को कोरोना के इलाज की पूरी ट्रेनिंग दी गई है. साथ ही जिला हॉस्पिटल के स्टाफ भी यहां मरीजों के इलाज में मदद करेंगे. 

छत्तीसगढ़ के इस जिले में शुरू किया गया पुलिस वालों के लिए कोविड केयर सेंटर, इलाज की भी दी गई ट्रेंनिंग
फाइल फोटो

प्रकाश शर्मा/जांजगीर-चांपा: छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में प्रदेश का पहला पुलिस कोविड केयर सेंटर तैयार किया गया है. यहां संक्रमित हुए पुलिसकर्मी व उनके परिजनों का इलाज किया जाएगा. खास बात ये है कि यहां संक्रमितों की देख-रेख कोई और नहीं बल्कि खुद पुलिस करेगी. 

पुलिस कर्मियों को कोरोना के इलाज की पूरी ट्रेनिंग दी गई है. साथ ही जिला हॉस्पिटल के स्टाफ भी यहां मरीजों के इलाज में मदद करेंगे. 

ये भी पढ़ें-कोरोना ने दो मासूमों से छीन लिए मां-बाप, लोगों ने बनाई दूरी, घंटों पेड़ के नीचे खड़े रहे बच्चे

इस हॉस्पिटल में 10 ऑक्सीजन युक्त बेड के साथ-साथ 10 सामान्य बेड भी हैं. बता दें कि यह सुविधा निचले स्तर के उन पुलिस कर्मियों के लिए वरदान की तरह है जिन्हें छोटे स्टाफ क्वार्टर व घर होने की वजह से होम आईसोलेशन के दौरान दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

पुलिस विभाग ऐसा विभाग है जिनके अधिकारी व कर्मचारी पिछले साल हुए लॉकडाउन के बाद से ही लगातार सड़कों में उतर कर फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य कर रहे हैं. वह लगातार संक्रमित भी हो जा रहे हैं और कितनों की मौत भी हो चुकी है. सख्त ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों के साथ-साथ उनके परिजन भी संक्रमित हो रहे हैं. जिसे देखते हुए एसपी ने पुलिस लाइन में ही इनके उपचार के लिए डॉक्टरों समेत मेडिकल टीम व जरूरी संसाधन उपलब्ध करवा कर अस्पताल शुरू करवाया है.

गौरतलब है कि जिले में कुछ जवानों की मौत कोविड की वजह से हो चुकी है, वहीं सैकड़ो प्रभावित भी हुए हैं. जिसकी वजह से पुलिस कोविड हॉस्पिटल बनवाना बेहद जरूरी हो गया था. अब पुलिस कोविड हास्पिटल के खुलने से उन पुलिस कर्मियों को राहत मिल सकेगी जिन्हें होम आइसोलेशन के दौरान दिक्कतों का सामना करना पड़ता था.

Watch LIVE TV-