कल्पेश याग्निक की मौत के जिम्मेदार को बख्शा नहीं जाएगाः सीएम शिवराज

 सीएम शिवराज ने कहा कि जो भी कल्पेश जी की मौत का कारण है उसे बख्शा नहीं जाएगा. उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी.

कल्पेश याग्निक की मौत के जिम्मेदार को बख्शा नहीं जाएगाः सीएम शिवराज
वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश याग्निक के परिवार से मिलने पहुंचे सीएम शिवराज

नई दिल्ली/इंदौरः रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश याग्निक के घर पहुंचे और उनके परिजनों से मुलाकात कर भेंट की. कल्पेश याग्निक के परिजनों से मुलाकात कर सीएम शिवराज ने कहा कि जो भी कल्पेश जी की मौत का कारण है उसे बख्शा नहीं जाएगा. उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी. साथ ही कल्पेश जी ने एडीजी को जो पत्र सौंपा है उसे अनदेखा नहीं किया जाएगा. जो कोई भी उनकी मौत के पीछे का कारण है उसे सामने लाना जरूरी है. बता दें आत्महत्या से पांच दिन पहले ही कल्पेश याग्निक ने इंदौर एडीजी को लिखित सूचना दी थी. जिसमें उन्होंने एक महिला पत्रकार द्वारा ब्लैकमेलिंग की बात कही थी. जिसके चलते कल्पेश याग्निक काफी परेशान थे.

महिला पत्रकार दे रही थी झूठे केस में फंसाने की धमकी
जानकारी के मुताबिक कल्पेश याग्निक ने एडीजी अजय कुमार शर्मा को आत्महत्या से पांच दिन पहले एक लिफाफा दिया था जिसमें याग्निक ने संस्थान द्वारा हटाई गई महिला पत्रकार द्वारा दोबारा नौकरी में लेने का दबाव बनाया जा रहा था. याग्निक ने एडीजी को महिला द्वारा झूठे केस में फंसाने की धमकी देने की भी बात कही थी. ऐसी स्थिति आने पर याग्निक ने एडीजी से उनका पक्ष भी सुनने की बात कही थी. जिसके बाद एडीजी ने यह पत्र डीआईजी को सौंप दिया था. जानकारी के मुताबिक सीएम द्वारा कल्पेश याग्निक के कड़े रुख के बाद जल्द ही महिला पत्रकार की गिरफ्तारी और पूछताछ हो सकती है. 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मल्टीपल इंजरी की बात सामने आई
वहीं डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र के मुताबिक मौत के पहले कल्पेश याग्निक जी ने जो पत्र लिखा था उसे गोपनीय रखने की बात कही गई थी. वहीं कल्पेश जी की मौत के बाद इस मामले पर उनके परिवार द्वारा कोई शिकायत नहीं मिली. जिसके चलते इसे गोपनीय रखा गया था. इस पत्र में किसी भी तरह की शिकायत आने पर दोनों पक्ष की बात सुनने की बात कही गई थी. बता दें पहले याग्निक की मौत का कारण हार्ट अटैक माना जा रहा था, लेकिन बाद में आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह गिरना और मल्टीपल इंजरी बताई गई थी.

ऑफिस परिसर में गिरे मिले याग्निक
बता दें बीते गुरुवार को कल्पेश याग्निक अपने इंदौर स्थित ऑफिस परिसर में रात करीब सवा 10 बजे गिरे मिले थे. जिसके बाद गार्ड की सूचना पर कर्मचारी और परिजन उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे. जहां देर रात डॉक्टर्स ने याग्निक को मृत घोषित कर दिया. वहीं शुरुआती दौर में याग्निक की मौत की वजह हार्ट अटैक को बताया जा रहा था, लेकिन शुक्रवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह मल्टीपल फैक्चर सामने आई. जिसके बाद कल्पेश याग्निक द्वारा महिला पत्रकार द्वारा झूठी रिपोर्ट करने की धमकी का खुलासा हुआ.