close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोरिया की बेटी का कमाल

कोरिया के चिरमिरी की एक बेटी ने कड़ी मेहनत और लगन के बल पर कमाल कर दिखाया है, जानिए क्या किया रुचिका ने?

कोरिया की बेटी का कमाल

कोरिया: छत्तीसगढ़ के कोरिया की एक बेटी ने अपनी प्रतिभा से पूरे जिले का नाम रोशन किया है।

चिरमिरी की रहने वाली 8वीं की छात्रा रुचिका जैन का चयन स्केटिंग में 62वीं राष्ट्रीय स्कूल खेल प्रतियोगिता के लिए हुआ है।

रुचिका के सेलेक्शन के बाद परिवार में खुशी का माहौल है, ये प्रतियोगिता महाराष्ट्र के पुणे में 27 जनवरी से 31 जनवरी तक आयोजित की जाएगी।

अंडर-14 प्रतियोगिता में रुचिका अपनी कोच अंजलि सिंह और परिवार वालों के साथ शामिल होंगी।

छत्तीसगढ़ की टीम 26 जनवरी को दुर्ग से पुणे के लिए जाएगी, रुचिका ने अपने चयन का श्रेय अपनी स्कूल की कोच और परिवारवालों को दिया है।

रुचिका ने रोलबॉल को लेकर एक साल से दी जा रही ट्रेनिंग के बाद इस मुकाम को हासिल किया है।

रुचिका ये लिए ये बड़ी कामयाबी इसलिए है क्योंकि कोरिया जैसे ज़िले में रोलबॉ़ल तो दूर कोई ना तो ज्यादा बच्चे स्केटिंग करते हैं और ना ही कोई उन्हें सिखाने वाला है। 

फिर भी रुचिका ने इस खेल को ना सिर्फ सीखा बल्कि उन्होंने राज्य स्तर पर कड़ा मुकाबला किया और खुद को साबित किया। 

क्या है रोलबॉल?

कोरिया की बेटी रुचिका जिस रोलबॉल गेम में राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन करने जा रही हैं ये गेम आखिर है क्या आपको बताते हैं। 

इस खेल की सबसे खास बात ये है कि इसका अविष्कार और शुरुआत भारत में ही हुई है। इसकी खोज एक स्पोर्टस टीचर राजू दभाडे ने की थी।

ये खेल दो टीमों के कुल 12 खिलाड़ियों के बीच खेला जाता है। हालांकि एक वक्त में कुल 6 खिलाड़ी ही मैदान पर होते हैं। ये बहुत हद तक बास्केटबॉल जैसा ही होता है बस इसके लिए खिलाड़ियों को स्केट्स पहनने होते हैं।

अब तक इस खेल में कुल तीन वर्ल्ड कप हो चुके हैं। ये वर्ल्ड कप साल 2011, 2013 और 2015 में हुए हैं। जिसमें 2013 और 2015 में भारत ने ईरान को हराकर दोनों वर्ल्ड कप जीते हैं।

मौजूदा वक्त में अंतर्राष्ट्रीय रोलबॉल फेडरेशन में भारत, चीन, ईरान, अरब, पाकिस्तान और ब्रिटेन समेत कुल 14 देश शामिल हैं।