close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ज़ी MPCG ने दिखाई ख़बर, थानेदार सस्पेंड

सागर में दो लड़कियों को धमकाने और उनके पिता के हाथ-पैर तोड़ देने की धमकी देने वाले टीआई की खबर दिखाए जाने के बाद टीआई को सस्पेंड कर दिया गया है, पढ़िए पूरी ख़बर।

ज़ी MPCG ने दिखाई ख़बर, थानेदार सस्पेंड

सागर: ज़ी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ की खबर का एक बार फिर असर हुआ है, सागर में एक टीआई के दो लड़कियों को धमकाने के मामले में टीआई पर कार्रवाई की गई है।

सागर के टीआई नवल आर्य को सस्पेंड कर दिया गया है, गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कार्रवाई करते हुए टीआई को सस्पेंड कर दिया है।

साथ ही इस पूरे मामले की जांच के भी आदेश दे दिए गए हैं। आपको बतादें कि ज़ी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ ने इस ख़बर को प्रमुखता से दिखाया था। 

उधर कांग्रेस ने इस पूरे मामले में सरकार को आड़े हाथों लेते हुए प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं।

कांग्रेस नेता माणक अग्रवाल ने कहा कि ये घटना बताती है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था के क्या हाल है।

क्या था मामला?

सागर में एक थाना इंचार्ज का वीडियो सामने आया था जिसमें वो दो लड़कियों को धमकाते नजर आ रहे थे।

मामला तिलकगंज इलाके में एक दुकान को लेकर हुए विवाद से जुड़ा है जिसपर कब्ज़े को लेकर विवाद है।

बताया जा रहा है कि साल 2008 में राजेश गोदरे ने रीता समैया नाम की एक महिला को 35 लाख रुपये में दुकान बेची थी।

रीता ने 15 लाख रुपये बतौर एडवांस देकर दुकान पर कब्जा कर लिया था।

लेकिन राजेश के मुताबिक रीता ने तीस साल बाद भी ना तो बाकी पैसा दिया और ना ही दुकान की रजिस्ट्री कराई।

जिसके बाद उसने बतौर एडवांस दिए गए 15 लाख रुपये दुकान का किराया मान लिया और बाकी राशि नहीं देने पर अपनी दुकान पर कब्जा करना चाहा।

इसी दौरान रीता ने राजेश के बेटे के खिलाफ थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवा दी जिसके बाद राजेश की दो बेटियां दुकान पर कब्जा करने पहुंची।

आरोप है कि मौके पर पहुंचे टीआई नवल आर्य लड़कियों को उठा ले जाने के धमकी देने लगे साथ ही उनके पिता के हाथ पैर तोड़ने की धमकी देते नजर आए थे।