close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सागर का छोरा और रूस की छोरी, प्यार हुआ और फिर क्या हुआ पढ़िए

सागर का रहने वाला एक लड़का गोआ में एक होटल में काम करता था, वहां एक रूस की लड़की आई दोनों में प्यार हुआ और फिर जाने क्या हुआ?

सागर का छोरा और रूस की छोरी, प्यार हुआ और फिर क्या हुआ पढ़िए

सागर: कहते हैं प्यार की कोई सीमा नहीं होती है और जोड़ियां ऊपर वाला ही बनाता है।

धरती पर तो सिर्फ दो दिलों का मिलन होता है। यकीन नहीं होता तो सागर के के इस जोड़े को ही देख लीजिए।

दोनों सात समंदर पार की दूरियों को मिटाकर एक-दूजे के हो गए।

बुंदेलखंड के रहने वाले नरेंद्र लोधी ने मॉस्को की रहने वाली एनस्तेसिया मिरोनोवा से 10 अगस्त  को मॉस्को में शादी रचा ली और एक-दूजे के हो गए।

दोनों ने सागर के अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव के ऑफिस में भी शादी के रजिस्ट्रेशन का आवेदन दे दिया है।

दरअसल, सागर के बेरखेड़ी गुरु के रहने वाले नरेंद्र लोधी गोवा में एक रेस्टोरेंट में काम करते हैं, वहीं पर मॉस्को की रहने वाली एनस्तेसिया मिरोनोवा से नरेंद्र की पहली मुलाकात हुई।

मॉस्को की पार्लियामेंट में काम करने वाली मिरोनोवा तीन साल पहले भारत घूमने आई थी।

तभी दोनों की पहली मुलाकात हुई जो अब शादी की शक्ल ले चुकी है।