close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश: PWD मंत्री ने प्रदेश कांग्रेस प्रमुख पद के लिए सुझाया गृह मंत्री का नाम

लोकसभा चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रचंड लहर के कारण कांग्रेस को सूबे की 29 में 28 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा था. 

मध्य प्रदेश: PWD मंत्री ने प्रदेश कांग्रेस प्रमुख पद के लिए सुझाया गृह मंत्री का नाम
राज्य के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने नये प्रदेश अध्यक्ष के रूप में गृह मंत्री बाला बच्चन का नाम लिया.

इंदौर: लोकसभा चुनावों के दौरान मध्य प्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस का सूपड़ा साफ होने के बाद इस दल का प्रदेश अध्यक्ष बदले जाने की अटकलें लगायी जा रही हैं. इस बीच, राज्य के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने नये प्रदेश अध्यक्ष के रूप में गृह मंत्री बाला बच्चन का नाम सुझाते हुए कहा है कि इससे आदिवासी समुदाय में अच्छा संदेश जाएगा. 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बदले जाने की कवायद की चर्चाओं के बारे में पूछे जाने पर वर्मा ने सोमवार को कहा, "गृह मंत्री बाला बच्चन के रूप में एक सशक्त चेहरा हमारे पास है. अगर उन्हें (प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की) कमान दी जाती है, तो इससे आदिवासी वर्ग में अच्छा संदेश जायेगा." हालांकि, उन्होंने फौरन स्पष्ट किया कि यह उनकी व्यक्तिगत राय है.

वर्मा ने कहा, "मैं राजनीति के क्षेत्र में अपने दीर्घ अनुभव के आधार पर व्यक्तिगत हैसियत से बच्चन का नाम ले रहा हूं. बच्चन उस आदिवासी समुदाय से आते हैं जिसकी सूबे में 22 फीसदी आबादी है." उन्होंने कहा, "सूबे के नवंबर 2018 के पिछले विधानसभा चुनावों में अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित सीटों पर कांग्रेस के सबसे ज्यादा विधायक जीतकर आये. इससे हमें सरकार बनाने में मदद मिली." कमलनाथ, सूबे के मुख्यमंत्री होने के साथ फिलहाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष भी हैं. वर्मा उनके करीबी समर्थकों में शुमार होते हैं.

लोकसभा चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रचंड लहर के कारण कांग्रेस को सूबे की 29 में 28 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा था. सूबे में सत्तारूढ़ कांग्रेस केवल छिंदवाड़ा सीट जीत सकी थी. यह सीट कमलनाथ का मजबूत गढ़ मानी जाती है. इस बार छिंदवाड़ा सीट से उनके बेटे नकुल नाथ विजयी होकर लोकसभा पहुंचे.