मुरैना: रेत माफियाओं ने की पुलिस पर फायरिंग, 6 आरोपी गिरफ्तार, 12 वाहन भी बरामद

पुलिस के अनुसार, रेत के अवैध खनन में लगे ट्रेक्टर पकड़ने के दौरान रेत माफियाओं ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दी. 

मुरैना: रेत माफियाओं ने की पुलिस पर फायरिंग, 6 आरोपी गिरफ्तार, 12 वाहन भी बरामद
पता चला है कि रेत माफिया रोजाना 200 से अधिक ट्रेक्टर एक साथ निकालते हैं. (फाइल फोटो)

शैलेन्द्र सिंह भदौरिया/मुरैना: मध्य प्रदेश में अवैध रेत खनन के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चला रही है. इसी के तहत मुरैना पुलिस ने मंगलवार की सुबह रेत माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई की. मुरैना जिले के दिमनी थाना क्षेत्र के बरैथा गांव में पुलिस ने अवैध रेत खनन कर रही ट्रेक्टर ट्रालियों को पकड़ने में सफलता हासिल की है. पुलिस ने कार्यवाही करते हुए 12 ट्रेक्टर ट्राली ओर 6 रेत माफियाओं को पकड़ने में सफलता हासिल की. इस कार्यवाही के दौरान पुलिस और रेत माफियाओं के बीच फायरिंग भी हुई. पुलिस के अनुसार, पुलिस के 120 जवानों के साथ रेत माफियाओं की घेराबंदी कर उनके ट्रेक्टर ट्रालियों को पकड़ा गया. 

पुलिस के अनुसार, रेत के अवैध खनन में लगे ट्रेक्टर पकड़ने के दौरान रेत माफियाओं ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दी. पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग कर 12 वाहनों सहित 6 आरोपियों को पकड़ लिया. एएसपी आशुतोष बागरी के नेतृत्व में 120 जवानों की टीम गठित कर कार्यवाही की गई. जानकारी के अनुसार, पुलिस ने मंगलवार की रात 1 बजे से रेत माफियाओं के रास्तों का घेराव कर रेत के वाहन पकड़ने में सफलता हासिल की. मुरैना में रेत माफियाओं के हौसले बुलंद हैं. मुरैना शहर के कई इलाकों में अवैध रेत की मंडियां भी लगती हैं. 

वहीं, पता चला है कि रेत माफिया रोजाना 200 से अधिक ट्रेक्टर एक साथ निकालते हैं. रेत माफिया नेशनल हाईवे ओर राजघाढ चंबल नदी पर अवैध खनन को अंजाम देते हैं. हालांकि, पुलिस इन पर कार्यवाही करती है या नहीं यह देखना है. पुलिस ने सभी वाहनों को जब्त कर डीआरपी लाइन में रखकर वनविभाग को सौंप दिया है. वन विभाग रेत के जब्त वाहनों के खिलाफ कार्यवाही करेगा.