close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सतनाः वृद्धाश्रम में बुजुर्गों को नहीं मिल रहा खाना, भूख से तड़प-तड़प कर 70 साल की महिला ने तोड़ा दम

बता दें पिछले छः महीने से मैहर वृद्धाश्रम को बजट नहीं मिला है, जिससे यहां रह रहे बुजुर्ग आखिर कैसे अपना जीवन यापन कर रहे हैं, इसके बारे में किसी को कुझ नहीं पता.

सतनाः वृद्धाश्रम में बुजुर्गों को नहीं मिल रहा खाना, भूख से तड़प-तड़प कर 70 साल की महिला ने तोड़ा दम
फाइल फोटो (फोटो साभारः twitter)

सतनाः मध्य प्रदेश के सतना जिले में एक बार फिर मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. जहां जिले के मैहर वृद्धाश्रम में 70 साल की बुजुर्ग महिला की भूख से तड़प-तड़प कर मौत हो गई. 70 वर्षीय भूरी बाई ने सतना जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझते हुए आज दम तोड़ दिया. बता दें पिछले छः महीने से मैहर वृद्धाश्रम को बजट नहीं मिला है, जिससे यहां रह रहे बुजुर्ग आखिर कैसे अपना जीवन यापन कर रहे हैं, इसके बारे में किसी को कुझ नहीं पता. इस वृद्धाश्रम में 35 से ज्यादा बुजुर्ग रह रहे हैं और इन दिनों सभी भूख से तड़प रहे हैं.

वृद्धाश्रम के 36 वृद्धों को कितना और कैसा खाना-पीना मिल रहा होगा इसे आसानी से समझा जा सकता है. बता दें हाल ही में चित्रकूट स्थित वृद्धाश्रम में भी भूख से वृद्ध की मौत का मामला सामने आया था, जो अभी ठंडा नहीं हुआ था और ये नया मामला सामने आया है. बता दें 70 वर्षीय वृद्ध महिला भूरी बाई जबलपुर स्थित घर से निकाले जाने के बाद पांच सालों से मैहर वृद्धाश्रम में रह रही थी, समाजिक कल्याण विभाग ने पिछले 6 माह से कोई बजट एलॉट नहीं किया है, जिसके चलते कर्मचारियों के साथ-साथ वृद्धाश्रम में रह रहे 36 वृद्धों का जीवन संकट में है. 

सोशल मीडिया पर युवती बनकर लड़कियों से कर रहा था चैटिंग, पकड़े जाने पर हुआ बड़ा खुलासा

देखें लाइव टीवी

आज का इतिहास: आज खुला था दुनिया का पहला ओल्ड एज होम

एक तरफ कर्मचारी आत्महत्या की धमकी दे रहे है दूसरी तरफ वृद्धों की हालत बदतर हो रही है. दानदाताओं और भंडारे पर निर्भर इस वृद्धाश्रम का हाल बदहाल है. वृद्धाश्रम का संचालन तो शारदा प्रबंध समिति करती है, लेकिन पूरा अनुदान सामाजिक न्याय एवं निःशक्त जन विभाग करता है, जिसने पिछले 6 माह से बजट रोक रखा है. बता दें इससे पहले एक हफ्ते पहले चित्रकूट वृद्धाश्रम में निवासरत वृद्ध रघुनाथ सोनी की भूख से मौत की खबर देश भर में सुर्खियां बनी थी, लेकिन घटना से सबक न लेकर सतना जिला प्रशासन की दूसरा कारनामा आपके सामने है. वहीं जब जिम्मेदार अधिकारियों से इस बारे में बात की तो उन्होंने बताया कि कुछ भी कहने से मना कर दिया.