MP: जबलपुर में होगी दूसरी वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस, 15 देशों के प्रतिनिधि करेंगे शिरकत

गुरुवार को मानस भवन में तीन दिवसीय रामायण चरित्र दर्शन एवं विवरण प्रदर्शनी की शुरुआत हो गई है.  

MP: जबलपुर में होगी दूसरी वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस, 15 देशों के प्रतिनिधि करेंगे शिरकत
26 जनवरी से शुरू होने जा रहे वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस में विश्व के 15 देशों के प्रतिनिधि शिरकत करेंगे.

कर्ण मिश्रा/जबलपुर: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर में दूसरी वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस का आयोजन होगा. आगामी 26 से 29 जनवरी तक वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस होने जा रही है. इससे पहले गुरुवार को मानस भवन में तीन दिवसीय रामायण चरित्र दर्शन एवं विवरण प्रदर्शनी की शुरुआत हो गई है. इसका शुभारंभ प्रदेश के सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया द्वारा किया गया.

प्रदर्शनी में राम जन्म से लेकर उनकी अयोध्या वापसी तक की जानकारी को चित्रों के माध्यम से दर्शया गया है. साथ ही इस मौके पर कला क्षेत्र से जुड़े छात्र-छात्राओं द्वारा रामायण काल खंड के विभिन्न विषयों को लेकर पेंटिंग व क्ले आर्ट बनाए गए हैं.

बता दें कि, 26 जनवरी से शुरू होने जा रहे वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस में विश्व के 15 देशों के प्रतिनिधि शिरकत करेंगे. वहीं केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल सहित फ्रेंच, अंग्रेजी, और अन्य भाषाओं में रामायण का अनुवाद करने वाली हस्तियां भी कार्यक्रम में शामिल होंगी.

आयोजन का मुख्य मकसद रामायण के महत्व से देश दुनिया को परचित कराना है. खास बात यह है कि इस बार वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस में राम मंदिर निर्माण की दिशा में काम कर रहे अनुभवी इंजीनियर भी शिरकत करेंगे.

वहीं वर्षों पुराने राम सेतु निर्माण को लेकर भी विशेषज्ञ और जानकार अपना बात वर्ल्ड रामायण कॉन्फ्रेंस में रखेंगे. पूरे आयोजन को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं.

पहली अंग्रेजी अनुवाद वाली रामायण लिखने वाले डॉ अखिलेश गुमास्ता ने जानकारी देते बताया कि आज प्रदर्शनी कार्यक्रम के साथ इसका आगाज हो गया है. 26 जनवरी को कॉन्फ्रेंस का भव्य शुभारंभ होगा. आयोजन में 'हाउ आई बिकेम ए हिन्दू' किताब लिखने वाले डेविड फ्राले, फ्रेंच में रामायण लिखने वाले फिलिप बेनाड समेत अंतरराष्ट्रीय स्तर के जानकार शामिल होंगे.