VIDEO: अचानक रैन बसेरा पहुंचे शिवराज, पूर्व CM को कड़कड़ाती ठंड में अपने बीच पाकर गदगद हुए लोग

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार देर रात कड़कड़ाती सर्दी में भोपाल की सड़कों पर आम जनता का हालचाल जानने निकल पड़े.

VIDEO: अचानक रैन बसेरा पहुंचे शिवराज, पूर्व CM को कड़कड़ाती ठंड में अपने बीच पाकर गदगद हुए लोग
भोपाल में स्थापित रैन बसेरे में जाकर पूर्व सीएम ने गरीब-बेसहारा लोगों की कुशलक्षेम पूछी.

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर खुद को 'कॉमन मैन ऑफ द मध्य प्रदेश' घोषित कर चुके पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार देर रात कड़कड़ाती सर्दी में भोपाल की सड़कों पर आम जनता का हालचाल जानने निकल पड़े. इसी दौरान अचानक उन्होंने एक रैन बसेरे की ओर रुख किया और वहां रात गुजार रहे लोगों से कुशलक्षेम पूछी. सूबे के पूर्व मुखिया को इस तरह अपने बीच पाकर वहां आराम कर रहा मजबूर तबके के लोग गदगद हो गए.

रैन बसेरे में ठहरे वृद्धजन ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज को बातचीत के दौरान बताया कि उनकी सरकार में दिया गया ठेला उसकी कमाई का जरिया बना हुआ है. वह भोपाल के सात नंबर इलाके में चाय बेचता है. इसको लेकर उसने सीएम को धन्यवाद दिया. वहीं, अपनी शिकायत दर्ज कराते हुए चायवाले ने कहा, 'मैं बिना मकान के जी रहा हूं. मुझे घर नहीं मिल पाया.' इस पर शिवराज ने कहा कि संबल योजना इसलिए ही बनाई थी ताकि लोगों को घर मिल सकें. उन्होंने बेघर को आश्वासन दिया कि वह इसके लिए लड़ेंगे.

राज्य में 13 साल का लंबा कार्यकाल बिताने वाले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब खुलकर आम जनता से मेल-मुलाकात कर रहे हैं. अपने मुख्यमंत्रित्व काल में हेलीकॉप्टर और निजी विमान से यात्रा करने वाले शिवराज अब आम जनता के बीच ट्रेन की सवारी कर रहे हैं. गुरुवार को ही उन्होंने भोपाल से बीना तक का सफर रेल में बैठकर किया. इस दौरान लोग पूर्व सीएम के साथ खुद को सेल्फी लेने से नहीं रोक सके.

shivraj
अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आम जनता से खुलकर मेल-मुलाकात कर रहे हैं.

सीएम की कुर्सी गंवाने के बाद बीजेपी विधायक शिवराज सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक सक्रिय बने हुए हैं. इसके साथ ही ट्विटर पर उनकी हाजिरजवाबी खूब पसंद की जा रही है. हाल ही में जब पूर्व सीएम के साथ एक 'भांजे' ने चाय पीने की फरमाइश कर डाली तो उन्होंने उसका मजेदार अंदाज में जवाब दिया. 

मध्यप्रदेश ने नहीं खोया शिवराज'
मध्य प्रदेश के अलावा देश के दूसरे राज्यों में भी पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 'मामा' के नाम से लोकप्रिय हैं. यही वजह है कि ट्विटर और फेसबुक पर उनको लोग किसी न किसी तरीके से याद करते रहते हैं. एमपी में बीजेपी की हार के बाद एक यूजर @niranjanchauh ने ट्वीट किया, ''आदरणीय शिवराज सिंह चौहान जी, मैं पटना बिहार का रहनेवाला हूं और सोशल मीडिया ट्वीटर पर पीछले तीन साल से जुडा़ हूं लेकिन इन तीन सालों में पहली बार किसी के हार के बावजूद विरोधी भी इतनी प्रशंसा कर रहे हैं तो वो आप हैं. आपमें अटल जी की जैसी विनम्रता झलकती है. सचमुच MP ने शिवराज को खो दिया.'' इसके रिप्लाई में 'मामाजी' लिखते हैं, ''ना मध्यप्रदेश ने शिवराज खोया है, और ना मैंने मध्यप्रदेश. मैं तो सिर्फ़ मध्यप्रदेश का हूं और मध्यप्रदेश मेरा.''

shivraj

बन गए 'द कॉमन मैन ऑफ मध्य प्रदेश'
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकार जाने के बाद से दो बार अपना ट्विटर प्रोफाइल बदला है. उन्होंने ट्विटर पर खुद को 'द कॉमन मैन ऑफ मध्य प्रदेश' (मध्य प्रदेश का आम आदमी) बताया है. इससे पहले इस्तीफा देने के तुरंत बाद शिवराज ने अपने ट्विटर प्रोफाइल पर लिखा था, 'एक्स चीफ मिनिस्टर ऑफ मध्य प्रदेश, इंडिया' लेकिन कुछ ही घंटों के बाद उन्होंने इसे बदल दिया.

एक पूर्व मुख्यमंत्री के द्वारा खुद को राज्य का एक आम आदमी लिखना सोशल मीडिया यूजर्स को काफी भा रहा है. यूजर्स शिवराज के प्रोफाइल का स्क्रीनशॉट लेकर काफी वाहवाही कर रहे हैं. लगातार एक के बाद ट्वीट करके शिवराज जता रहे हैं कि वह विपक्ष में रहकर पार्टी के लिए जमीनी स्तर पर काम करते रहेंगे.