तीरंदाजी में मेडल जीतने वाली मुस्कान किरार को शिवराज सरकार देगी 75 लाख का ईनाम

शिवराज सिंह चौहान ने जकार्ता एशियाई खेलों में महिला कम्पाउंड तीरंदाजी में रजत पदक हासिल करने के लिए जबलपुर निवासी मुस्कान किरार को 75 लाख रुपये सम्मान निधि देने की घोषणा की है.

तीरंदाजी में मेडल जीतने वाली मुस्कान किरार को शिवराज सरकार देगी 75 लाख का ईनाम
फाइल फोटो

नई दिल्ली/भोपालः18वें एशियन गेम्स की तीरंदाजी कंपाउंड टीम इवेंट रजत पदक जीतने वाली मुस्कान किरार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 75 लाख रुपये की सम्मान निधि देने का फैसला किया है. बता दें मुस्कान एशियन गेम्स में हॉकी को छोड़कर किसी अन्य खेल में पदक जीतने वाली पहली लड़की हैं. ऐसे में मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ाने के लिए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जकार्ता एशियाई खेलों में महिला कम्पाउंड तीरंदाजी में रजत पदक हासिल करने के लिए जबलपुर निवासी मुस्कान किरार को 75 लाख रुपये सम्मान निधि देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुस्कान को बधाई देते हुए उन्हें प्रदेश के खेल जगत का गौरव बताया है.

मुस्कान ने मध्य प्रदेश का नाम रौशन किया
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुस्कान किरार जैसे खिलाड़ियों के खेल कौशल से मध्यप्रदेश अब राष्ट्रीय के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय खेल मानचित्र पर भी अपनी पहचान बना पाने में सफल हो रहा है. बता दें मुस्कान किरार जबलपुर की रहने वाली हैं. ऐसे में उनकी सफलता के बाद जबलपुर स्थित उनके घर में जश्न का माहौल है. मुस्कान के माता-पिता ने भोपाल स्थित तीरंदाजी अकादमी में बैठकर मुस्कान का मैच देखा और मुस्कान के जीतने के बाद खुशी जाहिर की.

ज्योति और मधुमिता के साथ मिलकर जीता पदक
बता दें मुस्कान ने यह पदक ज्योति और मधुमिता के साथ मिलकर जीता है. जिसके लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 75 लाख की सम्मान राशि की घोषणा की है. इससे पहले, 2014 में हुए एशियाई खेलों में भारतीय टीम ने महिला कंपाउंड टीम स्पर्धा का कांस्य पदक हासिल किया था. बता दें मुस्कान पिछले 2 सालों से तीरंदाजी की ट्रेनिंग ले रही हैं और अपनी प्रतिभा को निखार रही हैं. इससे पहले भुवनेश्वर में आयोजित 37वीं सब जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतिस्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं. मुस्कान को यह अवॉर्ड विक्रम अवॉर्ड समारोह में दिया जा सकता है. (इनपुटः भाषा से भी)