इंदौर: नोटबंदी के बाद चलाए गए नोटों के नकली संस्करण छाप रहे छह लोग गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि ये आरोपी प्लास्टिक उत्पादों की दुकान की आड़ में उच्च गुणवत्ता के कम्प्यूटर, स्कैनर और प्रिंटर से 2,000, 500, 200, 100 और 50 रुपये के नकली नोट छाप रहे थे.

इंदौर: नोटबंदी के बाद चलाए गए नोटों के नकली संस्करण छाप रहे छह लोग गिरफ्तार
(प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर: नोटबंदी के बाद चलाए गए अलग-अलग मूल्य वर्गों वाले नए नोटों के नकली संस्करण छाप रहे छह लोगों को पुलिस ने यहां मंगलवार को धर दबोचा.

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि ये आरोपी आनंद बाजार क्षेत्र में प्लास्टिक उत्पादों की दुकान की आड़ में उच्च गुणवत्ता के कम्प्यूटर, स्कैनर और प्रिंटर से 2,000, 500, 200, 100 और 50 रुपये के नकली नोट छाप रहे थे.  उन्होंने बताया कि वे उन नए नोटों के जाली संस्करण छाप रहे थे, जो नोटबंदी के बाद भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बाजार में उतारे गये थे. 

प्रवक्ता ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से अलग-अलग मूल्य वर्गों के नोटों के रूप में कुल 93,000 रुपये की जाली मुद्रा बरामद की गई है. शुरूआती जांच में पता चला है कि वे इंदौर और भोपाल में नकली नोट चला चुके हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर 2016 को 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोट बंद किये जाने की घोषणा की थी .