तांत्रिक के बेटे ने की थी दुष्कर्म के बाद महिला और दुधमुंही बच्ची की हत्या, आरोपी पिता-पुत्र गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि इलाज के बाद लौट रही महिला को तांत्रिक शेर सिंह के बेटे रमेश ने मोटरसाइकिल पर बिठाकर घर छोड़ने का भरोसा दिया.

तांत्रिक के बेटे ने की थी दुष्कर्म के बाद महिला और दुधमुंही बच्ची की हत्या, आरोपी पिता-पुत्र गिरफ्तार
पुलिस ने बताया कि हत्या शनिवार शाम को हुई थी. पुलिस ने मौके से साक्ष्य जुटाए तो, उसमें भभूत और झाड़-फूंक का सामान मिला था.

खंडवा: खंडवा पुलिस ने एक महिला और उसकी दुधमुंही बच्ची की हत्या का खुलासा कर दिया. पुलिस ने खुलासा किया है कि आरोपी उसी तांत्रिक का बेटा है, जिसके पास यह महिला अपनी बच्ची का इलाज कराने गई थी. आरोपी ने घर लौटते समय उसे मोटरसाइकिल से लिफ्ट देकर घर छोड़ देने का भरोसा दिया. वहीं, रास्ते में एक खेत में ले जाकर चाकू की नोंक पर दुष्कर्म किया. विरोध करने पर हत्या कर दी और जब बच्ची रोने लगी, तो उसका भी गला रेत दिया. पुलिस ने आरोपी बेटे और साक्ष्य छुपाने के लिये उसके तांत्रिक पिता को भी गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल, पंधाना थाना क्षेत्र के रुस्तमपुर गांव के पास एक खेत में महिला और उसकी एक साल की बच्ची की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी. महिला के चिल्लाने पर आसपास खेतों में काम कर रहे किसानों ने खेत में जाकर देखा, तो महिला और बच्ची का लहूलुहान शव पड़ा हुआ था. ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने जांच की तो, पता चला कि महिला पड़ोस के गांव की रहने वाली सुनीता बाई थी. जो अपनी एक साल की बच्ची का इलाज कराने के लिए तांत्रिक शेर सिंह बारेला के घर  भिलखेड़ी गई थी.

पुलिस ने बताया कि इलाज के बाद जब वह पैदल अपने गांव लौट रही थी. तब तांत्रिक शेर सिंह के बेटे रमेश ने उसे मोटरसाइकिल पर बिठाकर घर छोड़ने का भरोसा दिया. इस दौरान वह उसे जबरन खेत में ले गया. चाकू की नोंक पर उसके साथ बलात्कार किया. जब महिला अपने साथ इस ज्यादती की शिकायत पुलिस में करने की बात कहने लगी तो, उसने गला रेत कर हत्या कर दी. इस दौरान महिला की बेटी भी रोने लगी तो, हत्यारे ने उसका भी गला रेत दिया.

पुलिस ने बताया कि हत्या शनिवार शाम को हुई थी. पुलिस ने मौके से साक्ष्य जुटाए तो, उसमें भभूत और झाड़-फूंक का सामान मिला था. पुलिस ने मृतका के परिवार वालों को खोज निकाला. मृतका के पति ने बताया कि महिला अपनी बच्ची को इलाज करवाने के लिए भिलखेड़ी गांव के तांत्रिक बाबा के पास जाने की बात कह रही थी. पुलिस ने तांत्रिक बाबा का पता लगाया और कड़ाई से पूछताछ की. आरोपियों ने हत्या करना कबूल कर लिया. पुलिस ने कहा कि तांत्रिक का आरोपी बेटा हत्या करके घर लौटा तो, उसके पिता ने हत्या के सबूत भी छुपाने में उसका साथ दिया. इसके चलते आरोपी बेटे के साथ तांत्रिक को भी हत्या का आरोपी बनाया गया है.