close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: चायवाले की बेटी ने किया नाम रोशन, एयरफोर्स की फ्लाइंग ब्रांच में हुआ सेलेक्‍शन

अपने बच्‍चों के सपनों की उड़ान को पंख देने के लिए हर पिता जी जान लगाकर मेहनत करता है. ऐसे ही एक पिता की बेटी ने उनका नाम पूरे देश में रोशन किया है. 

MP: चायवाले की बेटी ने किया नाम रोशन, एयरफोर्स की फ्लाइंग ब्रांच में हुआ सेलेक्‍शन
आंचल गंगवाल (फोटो साभार: ANI)

नीमच/नई दिल्‍ली: अपने बच्‍चों के सपनों की उड़ान को पंख देने के लिए हर पिता जी जान लगाकर मेहनत करता है. ऐसे ही एक पिता की बेटी ने उनका नाम पूरे देश में रोशन कर दिया है. मध्‍यप्रदेश के नीमच की आंचल गंगवाल ने इंडियन एयरफोर्स की फ्लाइंग ब्रांच में सेलेक्‍ट होकर पूरे प्रदेश का नाम रोशन कर दिया है. आंचल के पिता चाय की दुकान चलाते हैं और बेटी की इस सफलता से उनका सीना गर्व से चौड़ा हो गया है. 

बेटी की सफलता से जानने लगे लोग 
भारतीय एयरफोर्स के फ्लाइंग ब्रांच के लिए चुनी गईं आंचल ने परीक्षा पास करने के बाद इससे जुड़े इंटरव्यू में छठे प्रयास में ये कमाल करके दिखाया है. छह लाख बच्चों ने इस परीक्षा में भाग लिया था जिसमें से महज 22 बच्चों को चुना गया और आंचल उनमें से एक हैं. आंचल के पिता ने कहा कि उनके इलाके के लोग उनकी चाय के दुकान के बारे में जानते हैं. लेकिन अब लोग उन्हें बेटी की सफलता पर बधाई देने आते हैं और इस बात से वो बहुत खुश हैं. 

दमोह में पुलिसकर्मी ने पानी के अंदर किया योग, बनाया रिकॉर्ड

आसान नहीं थी राह 
अपनी इस सफलता पर आंचल का कहना है कि मैं जब बारहवीं क्‍लास में थी उस वक्‍त उत्‍तराखंड में बाढ़ आई थी. उस समय फोर्स ने जिस तरह से लोगों की मदद की थी मैं उनके काम से इतना प्रभावित हुई थी कि मैंने उसी वक्‍त फोर्स ज्‍वाइन करने का मन बना लिया था. लेकिन उस समय परिवार की स्‍थिति अच्‍छी नहीं थी. एयरफोर्स का एग्‍जाम पास करना आसान नहीं था. एक साल में पांच बार इंटरव्‍यू देना पड़ा और छठीं बार सफलता मेरे हाथ लगी. 

लालची दूल्‍हे को दुल्‍हन ने सिखाया सबक, दहेज मांगने पर लौटाई बारात

आंचल को 30 जून को हैदराबाद स्‍थित एयरफोर्स एकडेमी में रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है.