‘आइटम’ वाले बयान पर EC की कमलनाथ को सलाह, कहा- ऐसे शब्दों का प्रयोग ना करें
X

‘आइटम’ वाले बयान पर EC की कमलनाथ को सलाह, कहा- ऐसे शब्दों का प्रयोग ना करें

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार में इमरती देवी को आइटम कहने वाले बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के जवाब के बाद चुनाव आयोग ने प्रतिक्रिया दी है.

‘आइटम’ वाले बयान पर EC की कमलनाथ को सलाह, कहा- ऐसे शब्दों का प्रयोग ना करें

भोपाल: मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार में इमरती देवी को आइटम कहने वाले बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के जवाब के बाद चुनाव आयोग ने प्रतिक्रिया दी है. आयोग ने कमलनाथ को ऐसे शब्दों से बचने की सलाह दी है.  ईसी की तरफ से कहा गया कि चुनाव प्रचार के दौरान भाषा का ख्याल रखना चाहिए. 

आपको बता दें कि  मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता कमलनाथ ने एक चुनावी सभा में मंत्री इमरती देवी पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी थी. उन्होंने कहा कि ''सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं. सरल स्वभाव के सीधे-साधे हैं. ये उसके जैसे नहीं हैं. क्या है उसका नाम?'' इस पर भीड़ में से आवाज आई इमरती देवी. तब कमलनाथ ने कहा कि ''मैं क्या उसका नाम लूं, आप तो मेरे से ज्यादा उसको पहचानते हैं. आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था... ये क्या आइटम है....ये क्या आइटम है.''

ये भी पढ़ें: मुझे प्रचंड राजनीति करनी है, इसीलिए 2024 में लड़ूंगी चुनाव- उमा भारती

कमलनाथ के इस बयान के बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई थी. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ पर कार्रवाई की मांग को लेकर मौन धारण किया था. यहां तक कि बीजेपी के तमाम नेताओं ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को जमकर खरी खोटी सुनाई थी.

 कमलनाथ के लिए मुश्किल की बात यह है कि इससे पहले खुद उनके राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी भी यह कह चुके हैं कि कमलनाथ को इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था. हालांकि, कमलनाथ ने इसे राहुल गांधी की निजी राय बताई थी. कमलनाथ अपने बयान पर खेद जरूर जता चुके हैं लेकिन उन्होंने माफी नहीं मांगी है.

वहीं इस मामले में चुनाव आयोग ने कमलनाथ से जवाब मांगा था. वहीं, कमलनाथ की ओर से पेश किए गए जवाब में यह कहा गया था कि उनका लंबा राजनीतिक अनुभव है और उनकी मंशा आइटम शब्द का इस्तेमाल करने में किसी महिला के सम्मान को ठेस पहुंचाना नहीं था. आयोग ने कमलनाथ के इस जवाब का परीक्षण किया और फिर उसके बाद उन्हें हिदायत जारी की गई. कमलनाथ के जवाब के बाद ही चुनाव आयोग ने उन्हें संभलकर बोलने की सलाह दी है. 

WATCH LIVE TV: 

 

Trending news