2 जनवरी तक नंदी हॉल में नहीं मिलेगा प्रवेश, जानिए कहां से कर सकेंगे महाकाल के दर्शन

अगर नए साल पर आप उज्जैन महाकाल मंदिर जाकर दर्शन करने की योजना बना रहे हैं तो ये खबर आपके लिए जरूरी है. पढ़िए पूरी खबर...

2 जनवरी तक नंदी हॉल में नहीं मिलेगा प्रवेश, जानिए कहां से कर सकेंगे महाकाल के दर्शन
बाबा महाकाल.

उज्जैन:  30 दिसंबर से 2 जनवरी तक महाकाल मंदिर के नंदी हॉल और गर्भगृह में श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. नए साल पर श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में ये फैसला लिया गया है. 30 दिसंबर से दो जनवरी तक नंदी हॉल के पीछे बैरिकेडिंग से चलायमान दर्शन व्यवस्था रहेगी, वीवीआईपी श्रद्धालु भी गणेश मंडप के प्रथम बैरिकेड्स से भगवान महाकाल के दर्शन करेंगे.

महाकालेश्वर मंदिर में भस्मारती के लिए देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं को भी अभी और इंतजार करना होगा. कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रबंध समिति ने फिलहाल भस्मारती शुरू नहीं कराने का फैसला लिया है.  

अब इतने बजे तक कर सकेंगे दर्शन
मंदिर में भगवान के दर्शन करने का समय भी 45 मिनट बढ़ाया गया है. इस संबंध में कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए समिति के सदस्यों ने निर्णय लिया है कि अब रात नौ बजे के बजाय रात पौने दस बजे तक महाकाल के दर्शन होंगे.

वीआइपी दर्शन के लिए अनुमति लेना होगी
भस्मारती के साथ ही शयन आरती दर्शन पर भी रोक बरकरार रखी गई है. किसी भी श्रद्धालुओं को इन दो आरतीयों के दर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी. अफसरों ने प्रोटोकॉल व्यवस्था को भी यथावत रखा है. वीआइपी दर्शन के लिए प्रमुख व्यक्तियों को जिला प्रोटोकॉल से दर्शन की अनुमति लेना अनिवार्य किया गया है. मालूम हो कि कोरोनाकाल से पहले साल के अखिरी दिन और नववर्ष पर 50 हजार से अधिक भक्त दर्शन करते आए हैं.

ये भी पढ़ें: माखनलाल विश्वविद्यालय घोटाला: पूर्व कुलपति समेत 20 प्रोफेसरों को बड़ी राहत, EOW ने दी क्लीनचिट

ये भी पढ़ें: जब एक बीमारी ने शुरू होने से पहले ही खत्म कर दिया होता इस महान खिलाड़ी का करियर...

WATCH LIVE TV