छतरपुर में शराब पीने के बाद 4 लोगों की मौत, परिजन बोले-धुंधली हो गई थी आंखों की रोशनी

छतरपुर (chhatarpur) जिले के परेथा गांव में शराब (alcohol) पीने के बाद चार लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग बीमार भी बताए जा रहे हैं. 

छतरपुर में शराब पीने के बाद 4 लोगों की मौत, परिजन बोले-धुंधली हो गई थी आंखों की रोशनी
सांकेतिक तस्वीर

छतरपुर: छतरपुर (chhatarpur) जिले के परेथा गांव में शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई. घटना के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. बताया जा रहा है कि शराब (alcohol) पीने के बाद लोगों की नजर धुंधली हो गई, जिसके बाद उन्हें तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान पहले 3 लोगों की मौत हुई. जबकि रात होते-होते एक और व्यक्ति ने दम तोड़ दिया. जबकि एक युवक का अभी भी इलाज चल रहा है.  घटना के बाद कलेक्टर, एसपी और डीआईजी ने परेथा गांव का दौरा किया है, जबकि स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची हुई है. इसके अलावा कई और लोग भी बीमार बताए जा रहे हैं. 

यह है पूरा मामला 
पुलिस ने बताया कि हरपालपुर थाना क्षेत्र के परेथा गांव में रहने वाले शीतल अहिवार की पत्नी की तेरहवीं थी, जिसमे उसके रिश्तेदार सहित गांव के लोग शामिल हुए थे. तेरहवीं के दूसरे दिन शीतल अहिरवार एवं उसके बेटों ने कुछ रिश्तेदारों के साथ मिलकर शराब पीनी शुरू कर दी. परिवार के लोगों ने बताया कि यह लोग हर दिन शराब पी रहे थे. लेकिन अचानक से शीतल अहिरवार के 25 साल के बेटे हरगोविंद की तबीयत खराब हुई और उसकी मौत हो गई. 

अचानक बिगड़ने लगी सभी की तबीयत 
शीतल के परिजनों ने बताया कि हरगोविंद की मौत के दूसरे ही दिन अचानक शीतल के बड़े बेटे जयराम और गांव के तुलसी बरार की तबीयत खराब होनी शुरू हो गई. आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जहां आज उनकी मौत हो गई. इस घटना के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया. 

ये भी पढ़ेंः मूक बधिर मां से बलात्कार के दोषी को अदालत ने दी ये सजा, फैसले के वक्त कही ये अहम बात

मौत की वजह साफ नहीं 
घटना की जानकारी लगते ही पुलिस और डॉक्टरों की टीम मौके पर पहुंची, पुलिस का कहना है कि जिन लोगों की मौत हुई है उनके शवों को फिलहाल पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, पोस्टमार्टम के बाद ही इस बात का खुलासा हो पाएगा उनकी मौत किस वजह से हुई है. वही मामले में डॉक्टरों का कहना है कि फिलहाल उन्हें इस बात की जानकारी है कि मृतक लगातार शराब पी रहे थे, लेकिन फिलहाल यह पता नहीं था कि शराब जहरीली थी या नहीं. 

दरअसल, कुछ दिनों पहले मुरैना जिले के एक गांव में जहरीली शराब पीने से करीब 27 लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना के बाद पूरे प्रदेश में जकर हंगामा बरपा था. ऐसे में अब अचानक छतरपुर जिले के परेथा गांव में भी लोगों की मौत की वजह शराब बताई जा रही है. हालांकि अब तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि उनकी मौत शराब से हुई है उसकी वजह कुछ और थी. 

ये भी पढ़ेंः CM शिवराज का नया अंदाज, पत्नी साधना सिंह के साथ इस तरह मनाई वैलेंटाइन डे की शाम

WATCH LIVE TV