1 अप्रैल से बदलने वाले हैं ये सभी नियम, जानें आम आदमी की जेब पर क्या असर पड़ेगा?
X

1 अप्रैल से बदलने वाले हैं ये सभी नियम, जानें आम आदमी की जेब पर क्या असर पड़ेगा?

1 अप्रैल से देश के 10 सरकारी बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बनाए जाएंगे...

1 अप्रैल से बदलने वाले हैं ये सभी नियम, जानें आम आदमी की जेब पर क्या असर पड़ेगा?

नई दिल्ली: एक अप्रैल से वित्त वर्ष 2021-22 की शुरुआत हो रही है. इस दिन से ऐसे कई बदलाव होने वाले हैं, जिनका आपके जीवन पर सीधा असर पड़ेगा. बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स से संबंधित नियमों में बदलाव किया है. जो 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगे. इसके अलावा बैंकों के विलय से लेकर जीएसटी रिटर्न के नियमों में भी बदलाव होगा, आपको जानना जरूरी है.

1 अप्रैल से देश के 10 सरकारी बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बनाए जाएंगे. अगर आपका बैंक अकाउंट देना बैंक, विजया बैंक, कॉरपोरेशन बैंक, आंध्र बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक में है तो 01 अप्रैल से आपका पासबुक और चेकबुक काम नहीं करेगा. इन बैंकों का विलय हो चुका है, जो कि पूर्ण रूप से 1 अप्रैल से प्रभावी हो जाएगा. देना बैंक और विजया बैंक का विलय बैंक ऑफ बड़ौदा में हुआ. इसी प्रकार ओरिएंटल बैंक ऑफ इंडिया और यूनाइटेड बैंक का विलय पंजाब नेशनल बैंक में हुआ है. कॉरपोरेशन बैंक और आंध्र बैंक का विलय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में हुआ है.

1. प्राइवेट कंपनियों में काम करने वाले ध्यान दें
पिछले साल ही केंद्र सरकार ने नया वेज कोड लागू किया था. जिसका सीधा असर प्राइवेट कंपनियों और कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले लोगों पर पड़ेगा. नए कानून के मुताबिक प्रोविडेंट फंड और ग्रेच्युटी के तहत जमा होने वाली रकम को बढ़ाया जाएगा, जिससे सैलरी कम हो सकती है. 1 अप्रैल से यह नया कोड लागू होने वाला है. नए वेज कोड के अनुसार, कर्मचारी को दिया जाने वाला अलाउंस कुल सैलरी से 50 परसेंट से ज्यादा नहीं हो सकता. कंपनियों को इसे सुधारने के लिए बेसिक सैलरी बढ़ानी होगी, जिससे प्रोविडेंट फंड और ग्रेच्युटी की रकम में इजाफा होगा.

2. बढ़ सकते हैं एलपीजी सिलेंडर के दाम
बता दें कि हर महीने के पहले दिन सरकार एलपीजी सिलेंडर के रेट को रिवाइज करती है. मार्च 2021 में राजधानी दिल्ली में एलपीजी सिलेंडर का भाव 769 रुपये से बढ़कर 819 रुपये हो गया था. चूंकि, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में तेजी देखने को मिल रही है, ऐसे में माना जा रहा है कि 1 अप्रैल से एलपीजी​ सिलेंडर के भाव एक बार फिर से बढ़ सकते हैं.

3. टैक्स चुराने वाले हो जाएं सावधान
1 अप्रैल से सरकार टैक्स चोरी के खिलाफ भी बड़ी निगरानी शुरू करेगी. बजट सत्र के दौरान वित्त मंत्री ने निर्देश दिया था कि टैक्स चुराने वाले, फर्जी बिल बनाने वाले, और टैक्स बचाने के लिए फर्जी तरीकों की मदद लेने वाले सावधान हो जाएं क्योंकि सरकार अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और डाटा एनालिसिस के जरिये निगरानी बढ़ाने वाली है. नया टैक्स नियम 1 अप्रैल से लागू होने जा रहा है, इसलिए टैक्स चोरी करने वालों को सावधान रहना होगा. 

ये भी पढ़ें: शादीशुदा पुरुष अपनाएं 4 किशमिश वाला यह घरेलू नुस्खा, फिर जो होगा, यकीन नहीं करेंगे आप!

4. अकाउंट से लेनदेन पर चार्ज लगेगा
अगर आपका अकाउंट इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) में है तो आपको 1 अप्रैल 2021 से पैसे जमा करने या निकालने के अलावा आधार आधारित पेमेंट सिस्टम (AEPS) पर चार्ज देना होगा. यह चार्ज फ्री ट्रांजैक्शन लिमिट के खत्म होने के बाद लिया जाएगा. यानी अगर आपके ट्रांजैक्शन की फ्री लिमिट खत्म हो जाएगी, तभी यह चार्ज देना होगा. 

5. पेंशनधाकों को फायदा
1 अप्रैल, 2020 से एम्प्लॉई पेंशन स्कीम (EPS) नियमों में भी बदलाव होगा. नए नियम के तहत EPS पेंशनर्स को पहले के मुकाबले ज्यादा पेंशन मिलेगी. दरअसल सरकार ने 2009 में वापस लिए ईपीएस से जुड़े एक नियम को बहाल कर दिया है. अब सरकार 15 साल बाद पूरी पेंशन के प्रावधान को बहाल करने वाली है. सरकार के इस कदम से उन ईपीएफओ पेंशनर्स को फायदा होगा जो 26 सितंबर, 2008 से पहले रिटायर हुए हैं और पेंशन की आंशिक निकासी का विकल्‍प चुना है. कम्‍यूटेड पेंशन का विकल्‍प चुनने की तारीख से 15 साल बाद उन्‍हें पूरी पेंशन का फायदा दोबारा मिलने लगेगा.

6. वरिष्ठ नागरिकों के लिए आईटीआर फाइलिंग
75 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक, जिनके पास केवल आय के स्रोत के रूप में पेंशन और ब्याज है, उन्हें आयकर रिटर्न दाखिल करने से छूट दी जाएगी.

ये भी पढ़ें: 1 अप्रैल से बढ़ जाएंगे टीवी, दूध, फ्रिज, कूलर, समेत इन जरूरी चीजों के दाम, आम से लेकर खास सब पर पडे़गा असर!

ये भी पढ़ें: अलर्ट: Video कॉल रिसीव करते ही दिखी न्यूड लड़की तो बात करने लगा शख्स, कुछ सेकंडों बाद हलक में आ गई जान

WATCH LIVE TV

Trending news