अनूपपुर के अमरकंटक में महंगे समोसे ने ले ली एक व्यक्ति की जान, जानिए आखिर कैसे हुआ यह

अनूपपुर जिले के अमरकंटक में समोसे ने एक व्यक्ति की जान ले ली. समोसे के बढ़े दाम को लेकर ग्राहक व दुकानदार के बीच ऐसा विवाद हुआ कि ग्राहक ने आत्महत्या का खौफनाक कदम उठा लिया. 15 रुपये के दो समोसे की जगह जैसे ही दुकानदार ने 20 रुपये मांगे तो ग्राहक ने महंगाई पर आपत्ति जाहिर की.

अनूपपुर के अमरकंटक में महंगे समोसे ने ले ली एक व्यक्ति की जान, जानिए आखिर कैसे हुआ यह

अभय पाठक/अनूपपुर: अनूपपुर जिले के अमरकंटक में समोसे ने एक व्यक्ति की जान ले ली. समोसे के बढ़े दाम को लेकर ग्राहक व दुकानदार के बीच ऐसा विवाद हुआ कि ग्राहक ने आत्महत्या का खौफनाक कदम उठा लिया. 15 रुपये के दो समोसे की जगह जैसे ही दुकानदार ने 20 रुपये मांगे तो ग्राहक ने महंगाई पर आपत्ति जाहिर की. दोनों के बीच विवाद बढ़ा और थाने तक पहुंच गया. शिकायत दुकानदार ने दर्ज कराई तो पुलिस ने ग्राहक से पूछताछ की. यही बात ग्राहक को नागवार गुजरी और उसने खुद पर पेट्रोल डालकर आत्महत्या कर ली.

दरअसल, अमरकंटक थाना के बांधा में गुमटीनुमा होटल में बाजारू जायसवाल दो अन्य लड़कों के साथ 22 जुलाई को शाम के समय समोसे लेने गया था. तब दुकान पर एक महिला बैठी हुई थी. समोसे खरीदने के बाद ग्राहक ने ज्यादा पैसे मांगने पर नाराजगी जाहिर की. इसके बाद विवाद शुरू हो गया. दुकानदार कंचन साहू ने घटना की शिकायत अमरकंटक थाने में दर्ज कराई. पुलिस ने धारा 294, 506 व 34 के तहत मामला भी दर्ज कर लिया. बस यही सब बातें ग्राहक बाजारू जायसवाल को सहन नहीं हुई. वह दूसरे दिन यानी 23 जुलाई की सुबह 10 बजे उसी दुकान के सामने जा पहुंचा और महंगे दाम व थाने में शिकायत की बात कर बहस करने लगा. कुछ देर बहस के बाद खुद पर पेट्रोल डालते हुए आग लगा ली.

पुल उफान पर, ऑपरेशन के बाद भी महिला पानी में चली पैदल, देखें Video

रास्ते में ही तोड़ दिया दम
हालांकि वहां मौजूद लोगों ने आग बुझाने के साथ पुलिस व एम्बुलेंस को घटना की जानकारी दी. लेकिन बाजारू बुरी तरह झुलक चुका था. उसे अमरकंटक उप स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद जिला चिकित्सालय भेजा गया, लेकिन ज्यादा जल जाने से उसने रास्ते मे ही दम तोड़ दिया.

MP के इस जिले में पुलिस की तीसरी आंख को हुआ ''मोतियाबिंद'', अंधेरे में सुरक्षा व्यवस्था 

मृतक ने लगाया महिला और पुलिस पर इलजाम
इसी बीच एम्बुलेंस में मृतक के परिजनों ने एक वीडियो बनाया जिसमें तब घायलावस्था में बाजारू जायसवाल ने दुकानदार व पुलिस पर इल्जाम लगाए थे. जिसे घटनास्थल पर मौजूद लोग व पुलिस गुस्से में दिया गया बयान मानकर नकार रही है. इधर, एसडीओपी पुष्पराजगढ़ आशीष भरांडे मामले की निष्पक्ष जांच कराने के आदेश जारी कर दिए हैं. अब जांच में चाहे जो तथ्य सामने आए पर अभी तो समोसे की महंगाई से एक जान चली गई.

WATCH LIVE TV