भारत में जल्द दस्तक दे सकती है कोरोना की तीसरी लहर! वैज्ञानिकों ने बताया कब आएगी

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर में डेल्टा वैरिएंट के कारण ही बड़ी संख्या में लोग इसकी चपेट में आए थे. ऐसे में डेल्टा प्लस वैरिएंड के चलते कोरोना की तीसरी लहर में ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं. 

भारत में जल्द दस्तक दे सकती है कोरोना की तीसरी लहर! वैज्ञानिकों ने बताया कब आएगी

नई दिल्लीः कोरोना की दूसरी लहर से अभी तक देश उबरा भी नहीं है कि कोरोना की तीसरी लहर आने की बातें शुरू हो गई हैं. दरअसल महाराष्ट्र सरकार द्वारा नियुक्त की गई विशेषज्ञों की एक टास्क फोर्स ने आशंका जाहिर की है कि अगले दो से तीन हफ्ते में ही महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर का आगमन हो सकता है. विशेषज्ञों ने यह आशंका अनलॉक के बाद सड़कों और बाजारों में दिख रही भारी भीड़ को देखते हुए जाहिर की है. 

कोरोना का डेल्टा प्लस वैरिएंट बन सकता है तीसरी लहर का कारण
विशेषज्ञों के अनुसार, देश में कोरोना की तीसरी लहर का कारण वायरस का डेल्टा प्लस वैरिएंट बन सकता है. वहीं आशंका को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने राज्य के वरिष्ठ डॉक्टर्स और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह सुनिश्चित करें कि शहरी और ग्रामीण इलाकों में सभी जरूरी दवाएं और उपकरण उपलब्ध रहें. 

ज्यादा खतरनाक साबित हो सकती है तीसरी लहर
स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर में डेल्टा वैरिएंट के कारण ही बड़ी संख्या में लोग इसकी चपेट में आए थे. ऐसे में कोरोना की तीसरी लहर में ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं. विशेषज्ञों ने चेताया है कि तीसरी लहर में दूसरी लहर की तुलना में दोगुने लोग संक्रमित हो सकते हैं और इनमें से 10 फीसदी बच्चे हो सकते हैं.