मूक बधिर मां से बलात्कार के दोषी को अदालत ने दी ये सजा, फैसले के वक्त कही ये अहम बात

मां के साथ बलात्कार का दोषी बेटा ड्रग्स का आदी है. पुलिस के अनुसार उसके खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा अपराध दर्ज हैं.

मूक बधिर मां से बलात्कार के दोषी को अदालत ने दी ये सजा, फैसले के वक्त कही ये अहम बात

इंदौर/शैलेंद्रः मां-बेटे के रिश्ते को शर्मसार करने के दोषी को अदालत ने कड़ी सजा दी है. दरअसल इंदौर जिला कोर्ट ने मूक बधिर मां के साथ बलात्कार के दोषी युवक को 10 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है. अदालत ने दोषी युवक पर 5 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है. कोर्ट ने पीड़िता को 15 हजार रुपए का मुआवजा देने का भी निर्देश दिया है. 

साल 2017 की है घटना
घटना इंदौर के अन्नपूर्णा थाना क्षेत्र की है, जहां एक नशेड़ी युवक ने साल  2017 में अपनी मूक बधिर मां के साथ ही कई बार बलात्कार किया. जब आरोपी की बहन ने मां के चेहरे पर चोट का निशान देखा, जिसके बाद घटना का खुलासा हुआ. थाने में मामला दर्ज कराया गया. अपनी शिकायत में महिला ने बताया था कि चाकू की नोक पर बेटा उसके साथ बलात्कार करता था. दोषी बेटे ने एक बार अपनी मां को ठंड के दिनों में लाठियों से इतना पीटा था कि उसका पूरा शरीर नीला पड़ गया था. 

प्यार के दिन ही हुई प्रेमी की पिटाई, पीड़ित बोला- 15 साल का इश्क है, अब साथ रहना है

मां के साथ बलात्कार का दोषी बेटा ड्रग्स का आदी है. पुलिस के अनुसार उसके खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा अपराध दर्ज हैं. उसके खिलाफ जिलाबदर की भी कार्रवाई की जा चुकी है. इतना ही नहीं वह कई बार खाना बनाते वक्त भी अपनी मां के साथ अश्लील हरकत करता था. दोषी की बहन ने भी कोर्ट में बयान दिए. 

कोर्ट ने कही ये बात
यह मामला विशेष न्यायाधीश मनीषा बसेर की कोर्ट में चला, जहां अभियोजन की ओर से 7 गवाहों को पेश किया गया. कोर्ट ने धारा 376 के तहत दोषी को 10 साल की सजा और 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है. फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने कहा कि सामाजिक आधार पर यह बहुत गंभीर और घिनौना अपराध है. 

बुआ के लड़के ने तीसरी बार किया दुष्कर्म, लड़की ने कुल्हाड़ी से हत्या की, फिर गढ़ी फिल्मी कहानी