"अभी बच्चा है एप", ज़ोर शोर से लॉन्च की गई ये 'एप' फेल हुई साबित !

लोगों की सुविधा के लिए बनाया गया एप फेल साबित हो रहा है. मंत्री ने कहा एप अभी बच्चा है. एप जल्दीबाजी में बनाया गया है.

"अभी बच्चा है एप", ज़ोर शोर से लॉन्च की गई ये 'एप' फेल हुई साबित !
स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव

रायपुर: ज़ोर शोर से लॉन्च किया गया CG TEEKA एप फेल साबित हो रहा है. दो दिन पहले स्वास्थ्य विभाग जिस एप की उपलब्धियां गिना रहा था आज वही लोगों की परेशानी का कारण बना हुआ है. एप क्रैश होने से लेकर टाइम स्लॉट न पता चल पाने की परेशानियां सामने आ रही हैं.
एप पर पहली दिक्कत रजिस्ट्रेशन की है. एप क्रैश हो रहा है जिससे रजिस्ट्रेशन में दिक्कत आ रही है और किसी भी तरह अगर रजिस्ट्रेशन हो जाए तो वैक्सीन का स्लॉट नहीं मिल रहा है. ऐसे में लोगों को मजबूरन वैक्सिनेशन सेंटर में घंटों खड़े होकर लौटना पड़ रहा है.

तकनीकी दिक्कतें आई
मामले पर स्वास्थ्य मंत्री ने सफाई देते हुए कहा है कि जल्दबाज़ी में एप लॉंच किया गया है. इसलिए ये दिक्कतें हैं. स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने सीजी टिका एप को अभी बच्चा बताया है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सीजी टिका एप को लेकर कहा एप जल्दीबाजी में बनाया गया है इसलिए गड़बड़ियां हो रही हैं. तकनीकी दिक्कतें आ रही हैं. उसे जल्द ही ठीक करने की कोशिश जाएगी.आपको याद दिला दें कि इस ऐप का उद्घाटन प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुछ दिनों पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये किया था.  

cgteeka App को जानें
18 से 44 आयुवर्ग के लोगों को लिए 12 नए टीकाकरण केंद्र बनाए गए. इसके लिए आवेदक को 'cgteeka App' पर रजिस्ट्रेशन कराना होता है. वैक्सीन लगवाने के लिए इस ऐप के जरिए ही केंद्र और स्लॉट बुक कराना होता है.

इन्हें मिलता लाभ
बिना मोबाइल धारी व्यक्ति भी रजिस्ट्रेशन करा सके इसका ध्यान रखकर इसे बनाया गया. यह वेब पोर्टल चिप्स द्वारा तैयार किया गया. इस ऑनलाइन पंजीयन माध्यम में एक खास सुविधा देने की तैयारी है. इसके तहत वे व्यक्ति भी पंजीयन करा सकेंगे जिनके पास मोबाइल नहीं है. जिला प्रशासन द्वारा पंचायतों नगरीय निकायों और नगर निगमों समेत अन्य स्थानों पर स्थापित हेल्प डेस्क की मदद से पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवा सके इसकी तैयारी भी बताई गई.                                                                                              
CM भूपेश ने किया शुभारंभ
छत्तीसगढ़ सरकार ने केंद्र सरकार की तर्ज पर ‘CG Teeka’ एप लॉन्च किया है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस एप का शुभारंभ किया है. प्रदेश में राज्य के 18-44 वर्ष आयु वर्ग के टीकाकरण के लिए ‘CGTeeka’ पोर्टल तैयार किया गया है. पोर्टल में सभी हितग्राहियों के लिए पंजीयन की सुविधा उपलब्ध रहेगी. साथ ही जहां इंटरनेट की सुविधा नहीं होगी वहां हेल्प डेस्क की व्यवस्था देने की बात कही गई.                              

जल्दबाज़ी में क्यों लॉन्च किया
छत्तीसगढ़ ने सीजी टीका वेब पोर्टल लॉन्च किया है। राज्य ने अपनी मोबाइल इंटरनेट से वंचित आबादी को हेल्प डेस्क की मदद से टीकाकरण के लिए सक्षम बनाने के लिए ये पोर्टल लॉन्च किया है. राज्य सरकार ने कहा कि यह पहल राज्य के गरीब निवासियों की टीकाकरण में मदद के लिए हैं जिनके पास स्मार्ट फोन या इंटरनेट सुविधाओं की कमी है.उन्हें बस इतना करना है कि वे अपनी डीटेल http://cgteeka.cgstate.gov.in/user-registration पर अपलोड करें. लेकिन क्या पता था ये तो बच्चा एप साबित होगी. ये पहल लोगों को लंबी कतारों में लगने से बचाने के लिए की गई लेकिन अब इसने सरकार की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है. लेकिन सवाल ये उठता है अगर ये अभी बच्चा एप थी तो क्यों जल्दबाज़ी में इसे लांच किया गया. क्यों इसके कंपलीट होने का इंतज़ार नहीं किया गया.

ये भी पढ़ें: फिर मुस्कुराएगा मध्य प्रदेशः इस जिले में तेजी से ठीक हो रहे कोरोना मरीज, ऑक्सीजन की खपत भी हुई आधी, जानिए कैसे?

WATCH LIVE TV