मोटर मैकेनिक की बेटी ने देश को दिलाया ओलंपिक कोटा, पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में रिकॉर्ड के साथ जीता गोल्ड मेडल

एमपी की पैरा शूटर रूबीना फ्रांसिस ने बड़ी सफलता हासिल की है.

मोटर मैकेनिक की बेटी ने देश को दिलाया ओलंपिक कोटा, पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में रिकॉर्ड के साथ जीता गोल्ड मेडल
रूबीना फ्रांसिस

प्रमोद शर्मा/भोपालः मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की प्रतिभावान पैरा शूटर रूबीना फ्रांसिस ने पैरू के लीमा में आयोजित पैरा वर्ल्ड कप में इतिहास रच दिया है. रूबीना ने 10 मीटर एयर पिस्टल में देश को ओलंपिक कोटा दिलाया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश की खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने रूबीना की इस उपलब्धि पर उन्हें बधाई दी है. रबीना के पिता मोटर मैकेनिक का काम करते हैं. 

रूबीना फ्रांसिस ने पैरा वर्ल्ड कप के फायनल राउण्ड में 238.1 अंकों के साथ स्वर्णिम सफलता अर्जित की है. इससे पहले इससे पहले रूबीना ने क्वालिफिकेशन राउण्ड में 600 में से 555 अंक प्राप्त किए और पांचवा स्थान हासिल कर फायनल में जगह बनाई थी. इससे पहले भी रूबीना ने साल 2017 में ओसिजेक में आयोजित पैरा वर्ल्ड कप में टर्की के खिलाड़ी अयसेगुल पेहलीवनलर ने 237.1 अंक अर्जित कर  वर्ल्ड रिकार्ड बनाया था. 

सीएम शिवराज ने भी दी बधाई 
रूबीना के इस प्रदर्शन पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी बधाई दी है. सीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 10 मीटर एयर पिस्टल में देश को ओलंपिक कोटा दिलाने पर बहुत बधाई, आपने हमें गौरवान्वित किया है! भविष्य के लिए मेरी शुभकामनाएं.

प्रदेश की बेटी ने रचा इतिहासः खेल मंत्री 
रूबीना की इस उपलब्धि पर प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने रूबीना को ट्वीट करते हुए लिखा हमें प्रदेश की बेटी रूबीना पर गर्व है. पैरा वर्ल्ड कप में रूबीना ने नए कीर्तिमान के साथ भारत को ओलंपिक कोटा दिलाकर इतिहास रचा है और देश एवं प्रदेश का गौरव बढ़ाया है. 

रूबीना के पिता है मोटर मैकेनिक
खास बात यह है कि रूबीना के पिता एक साईमन फ्रांसिस मोटर मैकेनिक है. उन्होंने बताया कि रूबीना को बचपन से ही शूटिंग के खेल में विशेष रूचि रही है, रूबीना के पैरा वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करने और देश को ओलंपिक कोटा दिलाने पर खुशी व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि रूबीना ने देश का गौरव बढ़ाया है. उन्होंने कहा कि ईश्वर ऐसी बेटी सबको दे, जो माता-पिता के साथ ही प्रदेश और देश का नाम रोशन करें. रूबीना की मां क निजी नर्सिंग होम में काम करती है. बता दें कि रूबीना कुछ दिन पहले कोरोना से भी ग्रसित हो गई थी. इसके बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अपनी रिकवर होते ही अपनी प्रैक्टिस शुरू कर दी थी. 

स्टॉर खिलाड़ी रूबीना की उपलब्धियां
इससे पहले भी रूबीना कई उपलब्धियां हासिल कर चुकी है. साल 2017 में रूबीना ने अंतर्राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में देश को दो स्वर्ण और एक कांस्य पदक दिलाए थे. जबकि 2017 में ही 2017 में बैंकाक में आयोजित वर्ल्ड शूटिंग पैरा स्पोर्टस चैम्पियनशिप के 10 मीटर एयर पिस्टल वूमेन टीम इवेन्ट में जूनियर वर्ल्ड रिकार्ड बनाते हुए देश को स्वर्ण पदक दिलाया. जबकि 2019 में क्रोएशिया में आयोजित वर्ल्ड शूटिंग पैरा स्पोर्ट्स वर्ल्ड कप में देश को कांस्य पदक दिलाया था. उन्होंने राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में 10 स्वर्ण, 2 रजत सहित 12 पदक अर्जित कर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया है. 

ये भी पढ़ेंः MP में चलेगा वैक्सीनेशन का महाअभियान, CM शिवराज मंत्रियों के साथ बनाएंगे रणनीति

WATCH LIVE TV