PM Kisan Yojana के लाभार्थी सस्ती दर पर Loan भी ले सकते हैं, ऐसे करें आसानी से आवेदन

इस योजना में किसानों को 3 लाख रुपए तक का लोन बिना गारंटी के दिया जाता है. वहीं 5-3 लाख रुपए का शॉर्ट टर्म लोन सिर्फ 4 फीसदी की ब्याज दर पर मुहैया कराया जाता है. 

PM Kisan Yojana के लाभार्थी सस्ती दर पर Loan भी ले सकते हैं, ऐसे करें आसानी से आवेदन
फाइल फोटो.

नई दिल्लीः हाल ही में केन्द्र की मोदी सरकार ने PM Kisan Yojana की आठवीं किस्त जारी की है. सरकार की इस योजना का लाभ देश के करीब 10 करोड़ किसानों को मिल रहा है. बता दें कि सरकार इस योजना के तहत किसानों को सस्ती दर पर लोन भी मुहैया कराती है. दरअसल आत्म निर्भर भारत योजना के तहत पीएम किसान सम्मान योजना और किसान क्रेडिट कार्ड योजना लिंक हैं. इसी किसान क्रेडिट कार्ड योजना पर सरकार किसानों सस्ती दर पर लोन उपलब्ध करा रही है. 

ब्याज दर बेहद कम
किसानों को फसलों की बुवाई के लिए बैंकों से बेहद कम ब्याज दर पर लोन मिलता है. यह लोन किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए ही दिया जाता है. इस योजना में किसानों को 3 लाख रुपए तक का लोन बिना गारंटी के दिया जाता है. वहीं 5-3 लाख रुपए का शॉर्ट टर्म लोन सिर्फ 4 फीसदी की ब्याज दर पर मुहैया कराया जाता है. 

बता दें कि सरकार इस लोन पर 2 फीसदी की सब्सिडी देती है. वहीं समय पर लोन चुकाने पर 3 फीसदी की छूट दी जाती है. इस तरह यह लोन सिर्फ 4 फीसदी पर मिलता है लेकिन अगर लोन चुकाने में देरी होती है तो इस लोन की ब्याज दर 7 फीसदी बैठती है. 

कैसे बनवाएं किसान क्रेडिट कार्ड
किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए सबसे पहले आप तहसील जाकर लेखपाल से मिलें और उससे अपनी जमीन की खसरा-खतौनी निकलवानी है. इसके बाद किसी भी बैंक में जाएं और मैनेजर से मिलकर किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने की मांग करें. यहां पर ये सलाह है कि किसान क्रेडिट कार्ड किसी ग्रामीण बैंक से बनवाएंगे तो उसमें सरकार की तरफ से इनसेंटिव वगैरह दिए जाते हैं. जिसका किसानों को फायदा मिलता है. 

इसके बाद बैंक मैनेजर आपको वकील के पास भेजेगा और मांग करेगा कि पिछले 12 साल से आपकी जमीन पर कोई लोन वगैरह तो नहीं चल रहा है. वकील इसे बनाकर देगा और फिर से बैंक में जाकर एक फॉर्म भरना होगा. इसके साथ कुछ कागजी कार्रवाई होगी. जिसके बाद आपका किसान क्रेडिट कार्ड बन जाएगा. इसमें लोन की सुविधा कितनी मिलेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी जमीन कितनी है.