इस बार धान, बांस और चांवल से सजेगी भाइयों की कलाई, जानिए CG की स्पेशल राखियों की खासियत

बहनों के लिए राखी के त्योहार में अपने भाईयों की कलाईयों पर राखी बांधने का इंतजार होता है.

इस बार धान, बांस और चांवल से सजेगी भाइयों की कलाई, जानिए CG की स्पेशल राखियों की खासियत
स्पेशल राखियां

राजनांदगांवः रक्षाबंधन का त्योहार नजदीक है, ऐसे में राखी त्योहार के लिए बाजार में फैंसी और डिजायनर राखियों का सजना भी शुरू हो गया है. लेकिन इस बार आपको बाजार में कुछ खास राखियां भी मिलने वाली हैं. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में बन रही यह राखियां अपने आप बेहद खास है. 

धान और चावल से बन रही है यह राखियां 
बहनों के लिए राखी के त्योहार में अपने भाईयों की कलाईयों पर राखी बांधने का इंतजार होता है, हर बहन अपने भाई की कलाई पर आकर्षक राखी बांधने की चाहत रखती है. बाजारों में भी एक से बढ़कर एक राखियां मिला भी जाती है. लेकिन इस बहने अपने भाईयो की कलाई पर स्पेशल राखी बांध सकती हैं. खास बात यह है कि इन राखियों की कीमत भी ज्यादा नहीं होगी. दरअसल, राजनांदगांव में महिला समूहों की महिलाएं धान, बीज, चावल, गेंहू, बांस और अन्य घरेलू व खेती किसानी से मिलाने वाली वस्तुओं से आकर्षक राखियां तैयार करने में जुटी हुई हैं. 

जल्द बाजारों में मिलेगी यह राखियां 
धान, बीज, गेंहू, चावल और बांस से यह राखियां बना रही महिलाओं ने बताया कि जल्द ही यह राखियां बाजारों में मिलेगी. क्योंकि इन राखियों को अब बाजारों में भेजा जा रहा है. हालांकि आज का दौर प्रतिस्पर्धा का दौर है. ऐसे में राखी के बाजार में इन महिलाओं की राखियों को कितना रिस्पॉन्स मिलता है ये देखने वाली बात होगी.

ऑनलाइन भी मिलेगी यह राखियां 
खास बात यह है कि यह राखियां ऑनलाइन भी मिलेगी. महिलाओं का कहना है कि वे इन राखियों को ई कॉमर्स यानी ऑनलाइन प्लेटफार्म पर भी लेकर जा रही है. ऐसे में इन महिलाओं को भरोसा है कि उनकी बनाई गई इन राखियों को बाजार में अच्छा रिस्पॉन्स मिलेगा इसकी उन्हें उम्मीद है.

ये भी पढ़ेंः वीर सिंह ने इस तरह गुजारे थे पाकिस्तान में 3 महीने, हर दिन होती थी पूछताछ, ऐसा मिलता था खाना

WATCH LIVE TV