उज्जैन: सावन के तीसरे सोमवार को खुला महाकाल का द्वार, बड़ी संख्या में पहुंच रहे भक्त

उज्जैन महाकाल के पुजारी आशीष ने बताया कि 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के कपाट को जलाभिषेक के लिए सुबह 2:30 बजे खोल दिए गया. इसके बाद बाबा का जलाभिषेक कर पंचामृत अभिषेक पूजन किया गया. इस दौरान बाबा का दूध,दही, घी शक्कर और फलों के रस से अभिषेक पूजन किया गया.

उज्जैन: सावन के तीसरे सोमवार को खुला महाकाल का द्वार, बड़ी संख्या में पहुंच रहे भक्त
फाइल फोटो.

उज्जैन: आज सावन का तीसरा सोमवार है और आज ही के दिन विशेष सोमवती अमावस्या का भी संयोग बना हुआ है. इसलिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए 12 ज्योतिर्लिगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में पहुंच रहे हैं. लेकिन कोरोना संकट को देखते हुए मंदिर में सीमित संख्या में ही श्रद्धालुओं प्रवेश दिया जा रहा है.

उज्जैन महाकाल के पुजारी आशीष ने बताया कि 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के कपाट को जलाभिषेक के लिए सुबह 2:30 बजे खोल दिए गया. इसके बाद बाबा का जलाभिषेक कर पंचामृत अभिषेक पूजन किया गया. इस दौरान बाबा का दूध,दही, घी शक्कर और फलों के रस से अभिषेक पूजन किया गया.

सीहोर: बारिश के कारण ऊपर तक भरा था कुआं, डूबने से तीन बच्चियों की मौत

महाकाल के पुजारी के मुताबिक ऐसा माना जाता है कि इस दिन महाकाल के दर्शन करने से कामनाएं पूरी होती हैं. इसलिए आज शाम 4 बजे भगवान महाकाल की सवारी निकलेगी. इस दौरान बाबा महाकाल श्रद्धालुओं का हाल जानने के लिए नगर भ्रमण पर निकलेंगे.

Watch Live TV-