5 मई के बाद हुई शादियां होंगी अमान्य, MP में इस कलेक्टर ने दिए आदेश, महिला सरपंच पर भी गिरी गाज

जिले में 5 मई के बाद हुई शादियां अमान्य रहेंगी. इस दौरान होने वाली सभी शादियों पर कार्रवाई भी शुरू हो गई है.

5 मई के बाद हुई शादियां होंगी अमान्य, MP में इस कलेक्टर ने दिए आदेश, महिला सरपंच पर भी गिरी गाज
प्रतीकात्मक तस्वीर

उज्जैनः देश भर में कोरोना महामारी ने लोगों की चिंताएं बढ़ा दीं. वायरस के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से प्रशासन ने लॉकडाउन लगाया, इसके साथ ही शादी समारोह पर भी प्रतिबंध लगाए गए. लेकिन कई लोगों ने इन सब के बावजूद शादियों आयोजित कराईं और अनुमति से ज्यादा मेहमान बुलाए. इन सभी शादियों को उज्जैन जिला प्रशासन ने अमान्य करार दे दिया.

इस तारीख के बाद हुई शादी अमान्य
उज्जैन जिला कलेक्टर ने आदेश जारी करते हुए बताया कि जिले में 5 मई के बाद हुई शादियां अमान्य रहेंगी. इस दौरान होने वाली सभी शादियों पर कार्रवाई शुरू हो गई. इस दौरान एक महिला सरपंच ने भी अपनी दो बेटियों की शादियां करवाई, जिसके बाद प्रशासन ने एक्शन लेते हुए उसके पति के खिलाफ FIR दर्ज कर ली. सरपंच की कुर्सी भी खतरे में है. 

यह भी पढ़ेंः- Lockdown के दौरान शादी में बुलाए 250 मेहमान, 'बारात' लेकर पहुंच गए तहसीलदार, फिर हुआ ऐसा

करीब 200 शादियों पर गहराया संकट
जानकारी मिली कि उज्जैन में 5 मई को रोक के बाद भी करीब 200 शादियां हुईं, जो अब निरस्त की जाएगी. कलेक्टर आशीष सिंह ने आदेश जारी किए कि पांच मई के बाद हुई शादियों का रजिस्ट्रेशन नहीं होगा, जिनका रजिस्ट्रेशन हो गया है उन्हें रद्द किया जाएगा. उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी भी शादियों कराने की परमिशन नहीं मिली है. 

चोरी-छिपे की शादी
प्रशासन को अंदेशा है कि रोक के बावजूद 5 मई के बाद करीब 200 से ज्यादा शादियां हुईं. इस दौरान जिन भी लोगों ने चोरी-छिपे शादी की, उन्हें कानूनी रूप से अमान्य करार किया जाएगा. 5 मई के पहले प्रशासन द्वारा जिन भी शादियों की अनुमति दी गईं उन्हें भी निरस्त गया, लेकिन लोग नहीं माने. नगरीय निकायों और ग्राम पंचायतों को निर्देश देकर इन सभी को निरस्त किया जाएगा. 

विवादों में घिरीं महिला सरपंच
इन्हीं निर्देशों के तहत जिले के रुनिजा की सरपंच मधु बैरागी भी विवादों में घिर गईं. उन्होंने 13 मई को अपनी दो बेटियों की शादी कराई, जिसके बाद उनके पति कमल दास बैरागी पर FIR दर्ज की गई. कलेक्टर विभाग तक मामला पहुंचते ही उन्होंने कार्रवाई करते हुए मधु बैरागी को सरपंच पद से हटाते हुए उन पर FIR के लिए भी कहा है.

यह भी पढ़ेंः- सड़क पर आया कोरोना, पुलिस और डॉक्टर ने जंजीरों से बांधा!

यह भी पढ़ेंः- छत्तीसगढ़ः 18+ APL का वैक्सिनेशन आज से फिर शुरू, जानें 'cgteeka App' पर कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

WATCH LIVE TV