चिड़ियाघर घूमने पहुंचे युवक से इंदौर निगमकर्मी ने कॉलर पकड़कर की मारपीट, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

शहजान शुक्रवार को अपने परिवार के साथ घुमने के लिए गया था. बताया जाता है कि उसके मास्क नहीं पहने होने पर सुरक्षाकर्मी ने शहजान के साथ बदसलूकी की और थप्पड़ मार दिया.

चिड़ियाघर घूमने पहुंचे युवक से इंदौर निगमकर्मी ने कॉलर पकड़कर की मारपीट, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल
युवक की कॉलर पकड़का निगम कर्मचारी

इंदौर: इंदौर नगर निगम चुनाव होने में अभी कुछ ही दिन बाकी है, लेकिन निगम के कर्मचारियों की गुंडागर्दी दिन पर दिन बढ़ते ही जा रही है. पहले बुजुर्गों के साथ अमानवीयता और अब युवाओं से मारपीट करना. इसी कड़ी में एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल भी हो रहा है. जिसमें निगम कर्मचारी एक युवक को पीटता नजर आ रहा है. वीडियो वायरल होने के बाद यूथ कांग्रेस ने दोषी कर्मचारी के खिलाफ संयोगितागंज थाने में मामला भी दर्ज कराया है. वहीं,शनिवार को युवक के परिजन और यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने निगम दफ्तर पर जाकर विरोध जताने के साथ ही निगम कर्मी को बर्खास्त करने की मांग की है. वहीं पुलिस वीडियो के आधार पर जांच में जुटी हुई है.

Gauravshali Madhya Pradesh LIVE: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर वित्त मंत्री देवड़ा बोले, धीरे-धीरे ठीक होंगी व्यवस्थाएं

पूर्व पार्षद के बेटे को मारे थप्पड़
दरअसल यह पूरी घटना इंदौर के चिड़ियाघर की बताई जा रही है. चिड़ियाघर में मौजूद निगम कर्मचारी ने कांग्रेस के पूर्व पार्षद हारून मंसूरी के बेटे शहजान की कॉलर पकड़ ली, जब शहजान ने कॉलर छोड़ने को कहा तो इस बात पर निगम कर्मचारी भड़क गया और उसने युवक को थप्पड़ जड़ दिया, जिससे उसका चश्मा भी टूट कर गिर गया. वहीं निगम कर्मचारी की यह हरकत वहां पर मौजूद दोस्त ने कैमरे में कैद कर ली. इसके बाद युवक ने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. 

दबंगों ने संत रविदास की प्रतिमा को किया खंडित, घटना के बाद इलाके में तनाव

मास्क नहीं पहनने की वजह से मारा
शहजान शुक्रवार को अपने परिवार के साथ घुमने के लिए गया था. बताया जाता है कि उसके मास्क नहीं पहने होने पर सुरक्षाकर्मी ने शहजान के साथ बदसलूकी की और थप्पड़ मार दिया. लेकिन वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि निगमकर्मी ने भी मास्क नहीं पहना हुआ था. परिजनों का कहना है कि मास्क नहीं पहनने पर टोक भी सकता था लेकिन मारने का अधिकार किसी को नहीं है. इस घटना के बाद ना ही निगम अधिकारियों ने खेद जताया है. लिहाजा, दोषी कर्मचारी को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किया जाए. इस मांग को लेकर निगम अधिकारी को ज्ञापन भी सौंपा गया है.

WATCH LIVE TV