विदिशा का नया अस्पताल माधवराव सिंधिया के नाम पर, CM कमलनाथ का ऐलान

विदिशा का नया अस्पताल माधवराव सिंधिया के नाम पर, CM कमलनाथ का ऐलान

विदिशा पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के पिता माधवराव सिंधिया के प्रभाव वाला क्षेत्र रहा है.

विदिशा का नया अस्पताल माधवराव सिंधिया के नाम पर, CM कमलनाथ का ऐलान

विदिशा: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने 144 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित 350 बिस्तरों वाले जिला चिकित्सालय भवन का लोकार्पण करते हुए इसका नामकरण दिवंगत माधवराव सिंधिया (Madhavrao Scindia) के नाम पर किए जाने का ऐलान किया. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अस्पताल का लोकार्पण करते हुए शुक्रवार को कहा, "हमने 11 माह में साफ नीयत और नीति से पूरे प्रदेश में भरोसे का वातावरण बनाया है. विरासत में मिली बदहाली से प्रदेश को मुक्त कराने के लिए आधारभूत निर्णय भी लिए हैं."

कमलनाथ ने कहा कि 350 बिस्तरों वाला यह नया अस्पताल पार्टी के दिवंगत वरिष्ठ नेता माधवराव सिंधिया के नाम पर होगा. उन्होंने कहा कि इस अस्पताल से क्षेत्र के लोगों को काफी लाभ होगा. उल्लेखनीय है कि विदिशा माधवराव सिंधिया के प्रभाव वाला क्षेत्र रहा है.

मुख्यमंत्री ने कहा, "शिक्षा और स्वास्थ्य की बेहतर व्यवस्थाओं के साथ बेरोजगारी को समाप्त करने के लिए सरकार पूरी प्रतिबद्घता के साथ काम कर रही है. राज्य सरकार द्वारा अल्प समय में किए गए प्रयासों से उद्योगों की प्रदेश के प्रति रुचि बढ़ी है, वे निवेश के लिए आगे आए हैं."

मुख्यमंत्री ने कहा, "हमारा लक्ष्य है कि नई सोच के युवाओं को, जो स्वाभिमान के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं, उन्हें अपने ही प्रदेश में मनपसंद रोजगार मिले. बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले, इसके लिए सुनियोजित नीति तैयार की जा रही है."

मुख्यमंत्री ने किसानों को अर्थव्यवस्था की रीढ़ बताते हुए कहा, "किसानों को कर्जमाफी से नहीं, खेती को मुनाफे का व्यवसाय बनाकर खुशहाल बनाएंगे. विदिशा जिले में 86 हजार किसानों का कर्ज माफ हुआ है. शेष किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया चालू है."

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा, "मुख्यमंत्री ने जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए 30 प्रतिशत बजट बढ़ाया है. अबतक 1800 नए डॉक्टरों की पदस्थापना की गई है और 4000 रिक्त पदों को भरा गया है."

चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने आगामी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में 10 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे, और चिकित्सा महाविद्यालयों की सीटें चार गुना बढ़ाई जाएंगी.

 

Trending news