Photo: उगते सूरज को अर्घ्य देकर आज संपन्न होगा महापर्व छठ, देखें छठ घाटों की तस्वीरें

छठ पूजा (Chhath Puja) का आज आखिरी दिन है. आज सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देकर इस महापर्व को संपन्न किया जाएगा.देखें श्रद्धालुओं की तस्वीरें जिसमें लोग विधिवत पूजा करते हुए दिखाई दे रहे हैं. तड़के सुबह से ही छठ घाटों पर व्रतियों की भीड़ लगने लगी.

Photo: उगते सूरज को अर्घ्य देकर आज संपन्न होगा महापर्व छठ, देखें छठ घाटों की तस्वीरें
छठ पूजा का आज आखिरी दिन

छठ पूजा (Chhath Puja) का आज आखिरी दिन है. आज सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देकर इस महापर्व को संपन्न किया जाएगा.देखें श्रद्धालुओं की तस्वीरें जिसमें लोग विधिवत पूजा करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

तड़के सुबह से ही छठ घाटों पर व्रतियों की भीड़ लगने लगी. 5:30 बजे तक अधिकांश श्रद्धालु छठ घाटों पर पहुंच गए.

 

कहा जाता है कि भगवान ब्रह्मा की मानस पुत्री और सूर्य देव की बहन हैं षष्ठी मैय्या. इस व्रत में षष्ठी मैया का पूजन किया जाता है इसलिए इसे छठ व्रत के नाम से भी जाना जाता है.

 

छठ महपर्व का आज चौथा और आखिरी दिन है.आज सुबह के अर्घ के साथ ही पूजा संपन्न हो जाएगी. रायपुर के छठ घाटों पर भी तड़के सुबह से व्रती पहुंच रहे हैं.सरकार की गाइडलाइन का ध्यान रखते ही छठ पर्व मनाया जा रहा है. 

 

छठ पूजा (Chhath Puja) का व्रत 36 घंटे तक निर्जला रखा जाता है. छठी मइया का व्रत आज सूर्य को अर्घ्य देने के साथ पूरा होता है.

कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से इस बार छठ महापर्व पहले से कुछ अलग दिख रहा है. इस बार कोरोना संक्रमण के बीच आस्था का महापर्व छठ मनाया जा रहा है. 

अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग गाइडलाइंस जारी की गई हैं.जिसका पालन करते हुए घाटों पर कम लोगों के साथ ही छठ की पूजा की जा रही है.

 

हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाने वाले छठ पूजा पर्व का उत्साह रतलांम में भी देखने को मिला.कालिका माता छेत्र के झाली तालाब पर छट पूजा के लोग पहुंचे.