close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जब महाधिवक्ता कनक तिवारी ने नहीं दिया इस्तीफा, तो CM भूपेश ने कैसे कर लिया मंजूरः अमित जोगी

अमित जोगी ने कहा कि अभी कुछ ही देर पहले महाधिवक्ता कनक तिवारी ने कहा कि मैंने इस्तीफा दिया ही नहीं और सीएम भूपेश बघेल ने मंजूर भी कर लिया और तो और रातों रात नए महाधिवक्ता की नियुक्ति भी कर डाली. यह किस तरह का खिलवाड़ किया जा रहा है. 

जब महाधिवक्ता कनक तिवारी ने नहीं दिया इस्तीफा, तो CM भूपेश ने कैसे कर लिया मंजूरः अमित जोगी
अमित जोगी (फाइल फोटो)

रायपुरः छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के महाधिवक्ता कनक तिवारी के इस्तीफे की खबर पूरे प्रदेश में आग की तरह फैल गई है. एक तरफ जहां सीएम भूपेश बघेल ने महाधिवक्ता कनक तिवारी के द्वारा इस्तीफा दिए जाने और उनके इस्तीफा को मंजूर करने की बात कही जा रही है. वहीं दूसरी ओर महाधिवक्ता कनक तिवारी इस्तीफा देने की बात से साफ इनकार कर रहे हैं. इस्तीफे की बात को लेकर जूनियर जोगी ने महाधिवक्ता के इस्तीफे मामले पर कहा कि पूरे प्रदेश भर में संवैधानिक संकट मंडरा रहा है. अमित जोगी ने कहा कि अभी कुछ ही देर पहले महाधिवक्ता कनक तिवारी ने कहा कि मैंने इस्तीफा दिया ही नहीं और सीएम भूपेश बघेल ने मंजूर भी कर लिया और तो और रातों रात नए महाधिवक्ता की नियुक्ति भी कर डाली. यह किस तरह का खिलवाड़ किया जा रहा है. 

अमित जोगी ने मीडिया के माध्यम से सीएम बघेल से सीधे सवाल किया है कि इतने वरिष्ठ अधिवक्ता को जलील कर बर्खास्त कर दिया, यह किस तरह का खिलवाड़ किया जा रहा है. महाधिवक्ता का पद संवैधानिक पद है. इसलिए मैं मांग करता हूं कि उच्च न्यायालय इसे संज्ञान में लें. इसके अलावा अमित जोगी ने यह भी कहा है कि क्या सिर्फ इसलिए कनक तिवारी को हटा दिया गया क्योंकि वे आपके गैरकानूनी, अवैधानिक और अनैतिक कार्यों में अपनी सहमति नहीं दी, इसका जवाब सीएम बघेल को देना चाहिए.

देखें लाइव टीवी

कोयला नीति से इस राज्य को हो रहा है करोड़ों का नुकसान, सीएम ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी

बता दें कि कई दिनों से महाधिवक्ता कनक तिवारी के इस्तीफा दिए जाने की खबर अलग-अलग सोशल मीडिया में चल रही थीं. आज तीसरी बार महाधिवक्ता के इस्तीफे की खबर आग की तरह वायरल हुई, पर इस बार की इस्तीफे की खबर को पुष्टि करते हुए खुद सीएम भूपेश बघेल में मुहर भी लगा दी लेकिन कनक तिवारी के द्वारा हर किसी को फोन के जरिए और अपने फेसबुक के द्वारा बार-बार बताया जा रहा है कि उन्होंने इस्तीफा नही दिया है. 

When Advocate General Kanak Tiwari did not give his Resignation, how did CM Bhupesh get approved: Amit Jogi

जानिए, मोदी सरकार में 24 राज्‍यमंत्रियों को कौन-कौन सी मिली जिम्‍मेदारी

बहरहाल कनक तिवारी के इस्तीफे का मामला अब राजनीतिक गलियारों में तूल पकड़ता जा रहा है. आज अमित जोगी ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर सवाल खड़े किए हैं और पूछा है कि आखिर बिना इस्तीफा दिए महाधिवक्ता का इस्तीफा मंजूर कैसे हो गया. वहीं कनक तिवारी भी अपने इस्तीफे की बात से इनकार कर रहे हैं. अब देखना यह होगा कि यह मामला बस यही तक शांत होता है या फिर कोई और रंग आता है.