close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पिता को उठाने आई पुलिस तो ढाल बनी बेटियां, गाड़ी पर चढ़कर कुछ यूं मचाया हंगामा

सीहोर के एसडीएम कोर्ट में मंगलवार को हुई इस अजीबोगरीब घटना ने प्रशासन के होश भी फाख्ता कर दिये. 

पिता को उठाने आई पुलिस तो ढाल बनी बेटियां, गाड़ी पर चढ़कर कुछ यूं मचाया हंगामा
मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के उलझावन गांव का है मामला.

सीहोर: मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में जब पिता को पुलिस ले जाने आई तो बेटियां ढाल बनकर खड़ी हो गईं. बेटियां पुलिस वाहन के सामने आ गईं. गाड़ी पर चढ़कर बेटी कि बोली- 'मुझे भी ले चलो जेल'. सीहोर के एसडीएम कोर्ट में मंगलवार को हुई इस अजीबोगरीब घटना ने प्रशासन के होश भी फाख्ता कर दिये. सीहोर जिले के उलझावन गांव के किसान ताराचंद वर्मा पर साढ़े छह एकड़ ज़मीन और कुएं पर अवैध कब्जे का आरोप था. एसडीएम कोर्ट ने कब्जा छोड़ने के आदेश दिये हैं, लेकिन ताराचंद वर्मा की बेटियों ने दलील दी कि ये जमीन और कुआं उनके मां के नाम पर है जो उनकी मौत के बाद पिता के नाम हो गया है, लेकिन राजस्व अफसरों ने इस पर गड़बड़ी करके मांगीलाल राय के नाम कर दी है. 

इस घटना से ताराचंद वर्मा और उनकी आठ बेटियों पर पहाड़ टूट पड़ा. अब राजस्व अधिकारी ताराचंद वर्मा पर कब्जा छोड़ने का दबाव बना रहे हैं. ताराचंद वर्मा की बेटियों ने कहा कि ये नाइंसाफी है. पिता को जेल जाने से रोकने के लिए जब एसडीएम कोर्ट के सामने बेटियों ने हंगामा किया तो पुलिस के भी होश उड़ गये.

ये भी पढ़ें: अस्‍पताल में मौजूद कुएं में मिला बुजुर्ग का शव, स्वास्थ्य केंद्र पर उठे सवाल

ताराचंद के वकील धर्मेन्द्र प्रजापती का कहना है कि उनके पक्षकार को जेल गलत पहुंचाया गया है. जब तक जमीन का बंटवारा नहीं होता, उन्हें जेल से मुक्त करना चाहिए. इस संबंध में उनकी ओर से अपील प्रस्तुत की थी, जिसका निराकरण नहीं हुआ है. प्रजापती का कहना है कि उनके पक्षकार ताराचंद की ओर से खसरा क्रमांक 1103,1108 में 6 एकड़ जमीन खरीदकर कुंआ खुदवाया था, जिस पर वह खेती करते हैं. जबकि अजमत अली और मांगीलाल राय की जमीन खसरा 1098,1099 पर है. पटवारी और आरआई द्वारा नक्शे को बदला गया है. इसके चलते यह सारा विवाद पैदा हुआ. इस मामले में राजस्व अधिकारियों की भूमिका संदिग्ध नजर आती है.

ये भी देखें: वीडियो स्टोरी: डेढ़ साल की मासूम से दुष्कर्म के प्रयास में युवक गिरफ्तार

सीहोर एसडीएम राजकुमार खत्री का कहना है कि ताराचंद की ओर से मांगीलाल राय की 1.50 एकड़ जमीन पर कब्जा कर रखा है, जिसमें एक कुंआ भी है जो वह छोड़ नहीं रहा है. कब्जा हटाने की कार्रवाई की गई है. पूर्व में ताराचंद को नोटिस भेजा गया था, लेकिन वह कब्जा छोड़ने को तैयार नहीं था, इसलिए जेल की कार्रवाई की गई है.

ये भी देखें: वीडियो स्टोरी: चंबल में महिलाओं को जागरुक कर रही है 'पैड वूमन'

ताराचंद वर्मा की बेटी विनिता का कहना है कि ग्राम उलझावन में उनके पिता ने 6 एकड़ भूमि खरीदी थी, जिस पर उनका कब्जा है और उस पर वह खेती भी करते हैं इस भूमि में एक कुआं भी है. मांगीलाल राय नामक एक व्यक्ति इस भूमि पर जबरन कब्जा करना चाहता है. जो आए दिन हमारे घर पर गुंडों को पहुंचाता है जो उन्हें डराते धमकाते हैं और जमीन छोड़ने की धमकी देते हैं. विनिता ने बताया कि वह 8 बहने हैं और उनकी मां भी नहीं है पिता को भी जेल भेज दिया है.