महिला नेत्री के बालों में फंसा मंत्री जी का चश्मा, वायरल VIDEO पर मचा बवाल
X

महिला नेत्री के बालों में फंसा मंत्री जी का चश्मा, वायरल VIDEO पर मचा बवाल

घटना मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) की रैगांव में एक रैली के दौरान हुई. भाजपा ने कांग्रेस की प्रतिक्रिया को ‘कांग्रेस नेताओं के दिमाग की विकृति’ करार दिया है.

महिला नेत्री के बालों में फंसा मंत्री जी का चश्मा, वायरल VIDEO पर मचा बवाल

भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना जिले के रैगांव विधान सभा उपचुनाव में प्रचार के दौरान एक सभा में भाजपा की महिला उम्मीदवार के बालों में फंसे मंत्री के चश्मे आफत करा दी. मंत्री महिला उम्मीदवार के बालों से अपना चश्मा निकालने लगे, जिसके बाद विवाद शुरू हो गया. कांग्रेस ने मंत्री के इस कार्य को अशोभनीय करार देते हुए कार्रवाई की मांग की है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कथित तौर पर राज्य के खनन मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह पहले अपनी जेब में अपना चश्मा खोजते हुए दिखाई दे रहे हैं, जब उनके पास बैठा एक व्यक्ति इशारा करता है कि मंत्री का चश्मा भाजपा की महिला उम्मीदवार के बालों में फंसा हुआ है. इसके बाद महिला के पीछे बैठे मंत्री उनके बालों से अपना चश्मा निकालते दिखाई दे रहे हैं. भाजपा पर हमला करते हुए कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मंत्री ने गलत तरीके से महिला उम्मीदवार को हाथ लगाया. कांग्रेस ने इस बाबत ट्विटर पर एक वीडियो भी शेयर किया है.
 

 

 

कांग्रेस का निशाना

कांग्रेस द्वारा शेयर किए गए वीडियो में मंत्री बगल में बैठी भाजपा उम्मीदवार के घुटने पर हाथ रखकर दूसरी तरफ बैठे मुख्यमंत्री से झुक कर बात करते दिखाई दे रहे हैं. प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष अर्चना जायसवाल ने एक बयान में कहा, ‘भाजपा केवल महिला सशक्तिकरण का दिखावा करती है लेकिन वीडियो और तस्वीर ने असलियत दिखाई है. खनन मंत्री ने न केवल महिला उम्मीदवार के बालों को छुआ बल्कि गलत तरीके से उस पर हाथ रखा.’ उन्होंने कहा कि कैडर आधारित अनुशासित पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा ने मंत्री के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की. जायसवाल ने कहा कि ऐसे लोगों को मंत्री जैसा सम्मानजनक पद नहीं मिलना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Train Ticket Cancellation: ट्रेन टिकट कैंसिल कराने पर कितना कटेगा पैसा? जानिए क्या कहता है नियम

बीजेपी ने किया पलटवार

वहीं दूसरी और भाजपा के प्रदेश सचिव रजनीश अग्रवाल ने कहा कि यह प्रतिक्रिया कांग्रेस नेताओं के गंदे दिमाग को दर्शाता है. उन्होंने कहा , ‘यह न केवल विकृत मानसिकता है बल्कि एक दलित महिला उम्मीदवार का अपमान भी है. यह कांग्रेस की परंपरा है.’ सतना जिले के रैगांव विधान सभा सीट पर उपचुनाव भाजपा के विधायक जुगल किशोर बागरी के निधन के बाद हो रहा है.

LIVE TV

Trending news