महाराष्ट्र: BJP का दावा- शिवसेना के साथ अबकी बार 220 पार, लेकिन CM पद पर अभी से ही 'तकरार'

महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर रस्साकसी बढ़ गई है. ताजा मामले मे महाराष्ट्र के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बयान दिया है कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री बीजेपी से होगा. इस बयान के बाद शिवसेना खेमे में हलचल मच गई है. 

महाराष्ट्र: BJP का दावा- शिवसेना के साथ अबकी बार 220 पार, लेकिन CM पद पर अभी से ही 'तकरार'
महाराष्ट्र विधानसभा मे 288 सीटें हैं, बीजेपी ने 'अब की बार 220 सीट पार' करने की बात की है.

मुंबई: महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर रस्साकसी बढ़ गई है. ताजा मामले मे महाराष्ट्र के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बयान दिया है कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री बीजेपी से होगा. इस बयान के बाद शिवसेना खेमे में हलचल मच गई है. लोकसभा चुनाव के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि बीजेपी ने खुलकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद पर अपना दावा ठोका है. महाराष्ट्र विधानसभा मे 288 सीटें हैं. इस बार बीजेपी ने 'अब की बार 220 सीट पार' करने की बात की है. 

लोकसभा चुनावों में दोनों दलों ने मिलकर चुनाव लड़ा था और शानदार सफलता हासिल की थी. राज्य की 48 लोकसभा सीटों में से बीजेपी ने 23 सीटों पर कब्जा किया था जबकि शिवसेना ने 18 सीटें हासिल की थीं. यानी कुल मिलाकर दोनों दलों को 41 सीट मिली. मत प्रतिशत की बात करें तो बीजेपे को कुल 27.6 फीसदी वोट प्राप्त हुए थे जबकि शिवसेना को 23.3 फीसदी वोट हासिल हुए थे.

वहीं कांग्रेस तथा एआईएमआईएम और निर्दलीय उम्मीदवार को एक सीट मिली थी. राष्ट्रवादी कांग्रेस (एनसीपी) को चार सीटें हासिल हुईं थी. 2014 विधानसभा चुनावों की बात करें तो बीजेपी ने 122 सीटें हासिल की थी जबकि शिवसेना को महज 63 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था. राज्य की 226 विधानसभा सीटों पर बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को बढ़त मिली थी, जबकि विपक्षी कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन ने 56 सीटों पर बीजेपी-शिवसेना गंठबंधन से ज्यादा वोट हासिल किए थे.

मंत्री सुधीर मुनगंटीवार के मुताबिक  "इस बार भी बीजेपी का मुख्यमंत्री होगा और हम अपने सहयोगी दलों के साथ इस बार 220 सीटें जीतकर अपना मुख्यमंत्री बनाएंगे." सुधीर मुनगंटीवार के बयान के बाद शिवसेना के युवा नेता और आदित्य ठाकरे के कजन वरुण सरदेसाई ने ट्वीट की और आपनी आपत्ति जताई है. 

सरदेसाई ने ट्वीट किया और कहा, "शिवसेना अध्यक्ष उद्धव साहेब और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने फैसला किया है कि महाराष्ट्र सीएम का पद 2.5 साल के लिए दोनों का होगा, लोग जो इस समझौते के लिए मौजूद नहीं थे, वे गठबंधन को अपने फायदे के लिए बिगाड़ें नहीं."  

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना नेता मनोहर जोशी ने बीजेपी को नसीहत देते हुए कहा  है कि "ऐसी बातें से बीजेपी-शिवसेना के संबंध खराब होंगे. बीजेपी के नेता जल्दबाजी मे दिेए गए बयानों से बचना चाहिेए, इस बार युति का ही मुख्यमंत्री बनेगा."