close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र में BJP-शिवसेना के बीच सत्ता संघर्ष तेज, संघ प्रमुख भागवत से मिले फड़णवीस

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच सत्ता संघर्ष तेज हो गया है. शिवसेना नहीं मान रही है और 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है.

महाराष्ट्र में BJP-शिवसेना के बीच सत्ता संघर्ष तेज, संघ प्रमुख भागवत से मिले फड़णवीस
शिवसेना का कहना है कि वह अगले 48 घंटे तक बीजेपी के जवाब का इंतजार करेगी. अ

मुंबई: महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच सत्ता संघर्ष तेज हो गया है. शिवसेना नहीं मान रही है और 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है. राज्य में सरकार गठन को लेकर पुरी बात रखने के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस देर रात संघ प्रमुख मोहन भागवत से मिलने हेडगेवार भवन पहुंचे. फडनवीस को संघ प्रमुख सें मार्गदर्शन की अपेक्षा है. साथ ही, सरकार बनाने को लेकर शिवसेना किस तरह रोड़ा बनी है, इस तथ्य को भी फड़णवीस, भागवत के सामने रखेंगे.  

शिवसेना (Shiv Sena) का कहना है कि वह अगले 48 घंटे तक बीजेपी (BJP) के जवाब का इंतजार करेगी. अगर इस दौरान जवाब नहीं मिला तो प्लान बी को अमल में लाने पर काम शुरू किया जाएगा. फिलहाल बीजेपी की तरफ से संवाद पूरी तरह बंद है. उधर, शिवसेना के इस अल्टीमेटम पर बीजेपी नेताओं ने भी बयान दिए हैं. महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि सीएम देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ही मुख्यमंत्री होंगे और बीजेपी जल्द सरकार बनाएगी. अब शिवसेना को तय करना है कि वो कब सरकार बनाने को लेकर कदम आगे बढ़ाती है.

LIVE टीवी: 

इधर, महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने कहा कि उन्हें अब तक सरकार के गठन पर शिवसेना से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है. पाटिल ने कहा, "हम इंतजार कर रहे हैं और हमारे दरवाजे उनके लिए 24 घंटे खुले हैं। हम जल्द से जल्द 'महा-यति' की नई सरकार बनाएंगे." उन्होंने दोहराया कि निवर्तमान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में शिवसेना और अन्य सहयोगी दलों के साथ बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार ही शपथ लेगी. पाटिल मंगलवार की दोपहर भाजपा राज्य कोर कमेटी की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे. यह बैठक फडणवीस की अध्यक्षता में हुई, जिसमें कई मंत्रियों और अन्य शीर्ष नेताओं ने भाग लिया. 

विपक्ष ने बीजेपी-शिवसेना पर साधा निशाना
विपक्ष ने बीजेपी-शिवसेना पर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से हस्तक्षेप की मांग की है. गवर्नर से मिलने के बाद, एनसीपी नेता अजित पवार ने कहा कि बेमौसम बारिश से किसान परेशान हैं. उनके साथ महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष बाला साहेब थोराट ने कहा कि महाराष्ट्र के पांच क्षेत्रों के किसान बेमौसम बारिश से परेशान हैं लेकिन सरकार ने सिर्फ 10, हजार करोड़ जारी किए हैं, जो कि पर्याप्त नहीं है. सरकार को कम से कम 25 हजार करोड़ रुपये जारी करना चाहिए. सरकार गठन में हो रही देरी पर बीजेपी-शिवसेना पर निशाना साधते हुए कहा, "हमें अभी तक पता नहीं कि सरकार कब तक बनेगी. राज्यपाल को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए.