महाराष्ट्र: मंत्रियों के विभागें का बंटवारा क्यों नहीं कर रहे CM उद्धव ठाकरे?

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और महाविकास आघाड़ी में कैबिनेट मंत्री बालासाहेब थोरात को 12 दिन के लंबे इंतजार के बाद भी मंत्रालय नहीं दिया गया है. शिवसेना की अगुवाई वाली उद्धव ठाकरे कैबिनेट में मंत्री बालासाहेब थोरात अकेले ऐसे नहीं हैं. 

महाराष्ट्र: मंत्रियों के विभागें का बंटवारा क्यों नहीं कर रहे CM उद्धव ठाकरे?
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे.

मुंबई: महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार की कैबिनेट में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा और लटक सकता है. मंत्रिमंडल विस्तार भी लंबा खींच सकता है. इसकी मुख्य वजह गृह मंत्रालय को लेकर सहमति नहीं बन पाना माना जा रहा है. महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने 28 नवंबर को शिवाजी पार्क पर बड़े ही धूमधाम से शपथ ली थी. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ 6 मंत्रियों को भी शपथ दिलाई गई पर 13 दिन बाद भी मंत्री बिना विभाग के हैं.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और महाविकास आघाड़ी में कैबिनेट मंत्री बालासाहेब थोरात को 12 दिन के लंबे इंतजार के बाद भी मंत्रालय नहीं दिया गया है. शिवसेना की अगुवाई वाली उद्धव ठाकरे कैबिनेट में मंत्री बालासाहेब थोरात अकेले ऐसे नहीं हैं. शिवसेना कोटे से कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे, कांग्रेस कोटे से मंत्री नितिन राउत, एनसीपी के जयंत पाटिल, छगन भुजबल और सुभाष देसाई सभी मंत्री विभाग मिलने का इंतजार कर रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र की सत्ता में गृह मंत्रालय को लेकर पेंच फंसा है. सीएम उद्धव ठाकरे गृह विभाग अपने पास रखना चाहते हैं, लेकिन एनसीपी गृहमंत्री कुर्सी को लेकर दबाव बनाये हुये है. विपक्षी दल शिवसेना सरकार पर धीमी रफ्तार से काम करने पर चुटकी ले रही है. सूत्र बताते हैं कि एनसीपी नेता अजीत पवार की उद्धव ठाकरे कैबिनेट में ताजपोशी में हो रही देरी भी मंत्रियों के बीच विभागों के बंटवारे में देरी की वजह बन रही है.

ये भी देखें-: