TDP के BJP से अलग होने का ममता ने किया स्वागत, अविश्वास प्रस्ताव में भी देंगी साथ

ममता ने कहा कि देश को तबाही से बचाने के लिए इस तरह के फैसले लेने की आवश्यकता है. इसके साथ ही टीडीपी द्वारा सोमवार को केंद्र सरकार के खिलाफ लाए जाने वाले अविश्वास पत्र का ममता ने समर्थन किया है.  

TDP के BJP से अलग होने का ममता ने किया स्वागत, अविश्वास प्रस्ताव में भी देंगी साथ
TDP के NDA से निकलने के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि देश को बचाने के लिए यह जरूरी थी. (फाइल फोटो)

कोलकाताः टीडीपी के एनडीए से गठबंधन तोड़ने के बाद राजनीतिक गलियारों में एक बार फिर से खलबली मच गई है. टीडीपी के एनडीए से गठबंधन तोड़ने के बाद पहली प्रतिक्रिया सामने आई है. तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने टीडीपी के फैसले का स्वागत किया है. ममता ने कहा कि देश को तबाही से बचाने के लिए इस तरह के फैसले लेने की आवश्यकता है. इसके साथ ही टीडीपी द्वारा सोमवार को केंद्र सरकार के खिलाफ लाए जाने वाले अविश्वास प्रस्ताव का भी ममता बनर्जी ने समर्थन किया है.  

विपक्ष को एकजुट करने की अपील
विपक्ष को एकजुट करने की अपील करते हुए ममता ने कहा, 'मैं विपक्ष के सभी राजनीतिक दलों से अपील करती हूं कि वह आर्थिक आपदा और राजनीतिक अस्थिरता के लिए मिलकर काम करें. ममता ने कहा कि अब वो वक्त आ गया है जब विपक्ष एक सूत्र में बंधकर बीजेपी के खिलाफ लड़ने की आवश्यकता है. 

NDA से बाहर हुई चंद्रबाबू नायडू की TDP, मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव सोमवार को

आंध्र को विशेष राज्य ना मिलने से नाराज थी TDP
बजट सत्र के दौरान आंध्र प्रदेश को विशेष पैकेज और राज्य का दर्ज ना दिए जाने के कारण टीडीपी काफी समय से केंद्र सरकार से नाराज चल रही थी. बजट सत्र के दौरान टीडीपी सांसदों ने कई बार सदन के बाहर गांधी प्रतिमा के सामने प्रदर्शन भी किया, लेकिन सरकार पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा. नाराजगी और पीएम मोदी से बातचीत के बाद पार्टी की शुक्रवार (16 मार्च) को हुई पोलित ब्यूरो की बैठक में एनडीए से अलग होने का फैसला लिया गया. इसके साथ ही टीडीपी के 16 सांसदों ने एनडीए सरकार को दिया अपना समर्थन वापस ले लिया. 

तेदेपा के दो मंत्रियों ने दिया था इस्तीफा
इससे पहले बीते 8 मार्च को तेदेपा के दो मंत्रियों ने राजग सरकार से इस्तीफा दे दिया था, हालांकि इसके बावजूद पार्टी ने कहा था कि वह केंद्र को अपना समर्थन जारी रखेगी. अमरावती में आयोजित पोलित ब्यूरो की बैठक में चंद्रबाबू नायडू ने अपने सांसदों से टेलीकॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा था कि वे आंध्र प्रदेश को 'विशेष राज्य' का दर्जा दिलाने के मुद्दे पर दिल्ली में एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.