भारतीयों को निकालने के लिए दो सैन्य विमान भेजे गए सूडान

भारत ने सूडान की राजधानी जूबा में फंसे 300 से अधिक भारतीयों को निकालने के लिए आज दो सी-17 सैन्य मालवाहक विमान वहां भेजे हैं।

भारतीयों को निकालने के लिए दो सैन्य विमान भेजे गए सूडान

नई दिल्ली : भारत ने सूडान की राजधानी जूबा में फंसे 300 से अधिक भारतीयों को निकालने के लिए आज दो सी-17 सैन्य मालवाहक विमान वहां भेजे हैं।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, ‘दक्षिण सूडान के भारतीयों- कृपया वहां से निकलिए। हमने आपके लिए दो विमान भेजे हैं। यदि स्थिति बिगड़ती है तो हम आपको नहीं निकाल पायेंगे।’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘दक्षिण सूडान- मेरे साथी जनरल वीके सिंह वहां से भारतीयों को निकालने के लिए जूबा पहुंच गए हैं। अभियान संकट मोचन।’ 

रवाना होने से पहले तड़के वीके सिंह ने कहा, ‘रवाना होने का समय। संदेश और शुभकामनाओं के लिए आप सभी को धन्यवाद। हम हर भारतीय को वापस लाने की यथासंभव कोशिश करेंगे। अभियान संकटमोचन।’ सिंह के साथ विदेश मंत्रालय में सचिव (आर्थिक संबंध) अमर सिन्हा, संयुक्त सचिव सतबीर सिंह और निदेशक अंजनी कुमार भी गए हैं।

बुधवार को एक आधिकारिक परामर्श में कहा गया था कि केवल वैध यात्रा दस्तावेज वाले भारतीय नागरिकों को ही विमान में सवार होने की इजाजत होगी। महिलाओं और बच्चों को प्राथमिकता के आधार पर जगह दी जाएगी। मंत्रालय के अनुसार दक्षिण सूडान में करीब 600 भारतीय हैं जिनमें से 450 जूबा में और करीब 150 राजधानी के बाहर हैं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार अब तक करीब 300 भारतीयों ने वहां से निकलने के लिए पंजीकरण कराया है।