मेघालय में NDA की सरकार, कोनराड संगमा ने ली CM पद की शपथ, राजनाथ-शाह हुए समारोह में शामिल

 संगमा ने सोमवार शाम राज्‍यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की थी और 60 सदस्यीय विधानसभा में 34 विधायकों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा पेश किया था. 

मेघालय में NDA की सरकार, कोनराड संगमा ने ली CM पद की शपथ, राजनाथ-शाह हुए समारोह में शामिल
एनपीपी के अध्यक्ष कोनराड संगमा ने मेघालय के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली. (फोटो- ANI)

शिलांग : नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के अध्यक्ष कोनराड संगमा ने मंगलवार को मेघालय के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली. मेघालय के राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कोनराड को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. गंगा प्रसाद ने कोनराड को सोमवार को प्रदेश में सरकार बनाने का आमंत्रण दिया था. राज्‍य में पांच दलों और एक निर्दलीय के समर्थन से एनडीए सरकार बनी है. कोनराड के साथ जेम्स पीके संगमा, ए एल हेक समेत 11 मंंत्री भी शपथ ली. बता दें कि प्रदेश में एनपीपी की अगुवाई में बनी सरकार को बीजेपी के विधायकों का भी समर्थन प्राप्त है.

कोनराड को मिला 34 विधायकों का समर्थन
कोनराड संगमा ने मंगलवार को कहा था, 'मेरे पास संख्याबल होने के कारण राज्यपाल ने राज्य में सरकार बनाने के लिए मुझे आमंत्रित किया है.' इसकी पुष्टि करते हुए राज भवन के एक अधिकारी ने कहा, 'राज्यपाल ने सरकार बनाने के लिए कोनराड संगमा को आमंत्रित किया है, क्योंकि उनके पास 34 विधायकों का समर्थन है.' 

 

बीजेपी ने रचा इतिहास-राजनाथ सिंह
कोनराड संगमा के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें बधाई दी और कांग्रेस को आड़े हाथों लिया. न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि पहले लोगों को यह लगता था कि नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में सिर्फ कांग्रेस ही राज कर सकती है, लेकिन बीजेपी ने बदलाव कर इतिहास रचा है.

 

 

क्या है मेघालय विधानसभा की स्थिति
चुनावों के नतीजों के ऐलान के बाद विधानसभा की स्थिति देखी जाए तो 60 में से 21 कांग्रेस के खाते में है. वहीं एनपीपी के खाते में 19 और बीजेपी के खाते में महज 2 सीटें ही आई हैं. जबकि यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी को 6 और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी को 2 सीटें मिली हैं. 

 

संगमा ने राज्‍यपाल को 34 विधायकों के समर्थन का पत्र पेश किया
उल्‍लेखनीय है कि संगमा ने सोमवार शाम राज्‍यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की थी और 60 सदस्यीय विधानसभा में 34 विधायकों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा पेश किया था. बैठक के बाद संगमा ने कहा, 'हमने राज्यपाल से मुलाकात की और 34 विधायकों के समर्थन का पत्र पेश किया, जिसमें 19 विधायक एनपीपी के, 6 यूनाईटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट, 4 पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, 2 हिल स्टेट डेमोक्रेटिक पार्टी (एचएसपीडीपी), 2 भाजपा के और एक निर्दलीय विधायक है.' 

केंद्र और मणिपुर में भाजपा की सहयोगी पार्टी है एनपीपी
मेघालय में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बनी है, जहां कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी जो अपनी विरोधी नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) से मामूली अंतर से आगे है. एनपीपी केंद्र और मणिपुर में भाजपा की सहयोगी पार्टी है.

कांग्रेस को मिलीं 21 सीटें
पिछले दस वर्षों से राज्य की सत्ता में रही कांग्रेस को 27 फरवरी को 59 सीटों पर हुए मतदान में 21 सीटें हासिल हुईं. यह आंकड़ा सामान्य बहुमत से दस कम है. कांग्रेस के पार्टी पदाधिकारियों और नेताओं ने कहा कि राज्यपाल के साथ बैठक में उन्होंने सरकार बनाने का दावा पेश किया था. कांग्रेस के तीन केंद्रीय नेताओं- कमलनाथ, अहमद पटेल और सीपी जोशी के प्रतिनिधिमंडल ने बीते शनिवार को राज्यपाल से मुलाकात की थी.

पीए संगमा के सबसे छोटे बेटे हैं कोनराड संगमा
कोनराड संगमा (40) पूर्व लोकसभा अध्यक्ष पीए संगमा के सबसे छोटे बेटे हैं. 2016 में पीए संगमा के निधन के बाद कोनराड तूरा संसदीय क्षेत्र से लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए थे. संगमा ने रीजनल डेमोक्रेटिक अलायंस के अध्यक्ष डोनकूपर रॉय से भी उनके आवास पर मुलाकात की.