ठंड का कहर: जानिए कहां पहुंचा पारा जमाव बिंदु पर

उत्तर प्रदेश सरकार ने कई जिलों में कड़ाके की ठंड देखते हुए एहतियातन सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को दो दिनों के लिए बंद रखने का फैसला किया है.

ठंड का कहर: जानिए कहां पहुंचा पारा जमाव बिंदु पर
फाइल फोटो

ठंड का कहर अब पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में लेना शुरु कर चुका है. राजधानी दिल्ली, राजस्थान और पूरे उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड और शीत लहर जारी है. उत्तर प्रदेश सरकार ने कई जिलों में कड़ाके की ठंड देखते हुए एहतियातन सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को दो दिनों के लिए बंद रखने का फैसला किया है.

माउंट आबू में 1 डिग्री तो दिल्ली में 4 डिग्री तक गिरा तापमान
सर्द हवाओं के साथ पूरे उत्तर भारत में लोगों को जमाना शुरु कर दिया है. राजस्थान के माउंट आबू में तापमान 1 डिग्री तक पहुंच चुका है. मौसम विभाग का कहना है कि राजस्थान के लोहावट सहित समूचा मारवाड़ शीत लहर की चपेट में है. तेज व कड़ाके की ठण्ड के चलते पारा जमाव बिंदु के नजदीक पहुँच चुका है. वहीं दिल्ली में भी कड़ाके की ठंड जारी है. राजधानी समेत पूरे एनसीआर में पारा 4 डिग्री तक गिर चुका है. 

 

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में एहतियातन स्कूल बंद
पूरे उत्तर प्रदेश में शीत लहर और ठंड पिछलो दो दिनों में बढ़ी है. राज्य के विभिन्न जिलों में एहतियातन सभी सरकारी और निजी स्कूलों को अगले दो दिनों के लिए बंद रखने का फैसला किया गया है. प्राप्त सूचना के अनुसार लखनऊ, गाजियाबाद, झांसी, महराजगंज, संभल, अयोध्या, मुरादाबाद, हमीरपुर, लखीमपुरखीरी, गोरखपुर, वाराणसी और अमेठी के स्थानीय स्कूलों को शनिवार तक बंद रखने को कहा गया है.

गुजरात भी अछूता नहीं
पूरे गुजरात भी मौसम की मार झेल रहा है. अभी तक राज्य का सबसे ठंडा शहर कच्छ का नलिया रहा है. नलिया का न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री तक गिर चुका है.  मौसम विभाग का शीत लहर का पूर्वानुमान कहा है. राज्य में बह रही उत्तर-पूर्व हवाओं की वजह से तापमान में कमी आने का अंदेशा है.